डॉ. आंबेडकर के पास थीं 35000 किताबें, वो इन्‍हें किसी को पढ़ने को क्‍यों नहीं देते थे?

Ambedkar Jayanti : बाबा साहब डॉ. बीआर आंबेडकर (Dr BR Ambedkar) अपने ज़माने के संभवत: सबसे पढ़े-लिखे शख्‍स थे और किताबों को लेकर उनकी दीवानगी...

दलितों को भिखारी कहने वाली तृणमूल कांग्रेस पर चुप्पी क्यों?

कोलकाता. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में चार चरणों के मतदान संपन्न होने के बाद राज्य में दलित राजनीति गर्मा गई है. तृणमूल कांग्रेस के नेता...

बीजेपी का समरसता दिवस, सपा की बाबा साहेब वाहिनी; आंबेडकर जयंती के बहाने राजनीति शुरू

नई दिल्ली. 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले उत्तर प्रदेश में दलित राजनीति (Dalit Politics) की शुरुआत हो गई है. प्रदेश के सभी...