mainpuri dalit brutalized till death by bullies, UP Police register FIR

मैनपुरी में दबंगों ने दलित को पीट-पीटकर मार डाला, देखें वीडियो

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मैनपुरी (Mainpuri) में एक और दलित (Dalit) की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्‍या कर दी गई. इस घटना को महज एक अफवाह पर अंजाम दिया गया. अफवाह थी कि इस शख्‍स ने अपनी बेटी को बेच दिया था.

जब दलित व्यक्ति को जब पीटा जा रहा था तब किसी ने इस घटना का वीडियो बना लिया जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. इसके बाद यूपी पुलिस (UP Police) में हड़कंप मच गया और मौके पर पहुंची पुलिस अब जांच-पड़ताल कर रही है.

सभी आरोपियों की तलाश जारी
अब पुलिस वीडियो में दिख रहे उन सभी आरोपियों की तलाश कर रही है, जिन्‍होंने दलित की बेरहमी से पिटाई की.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मैनपुरी के कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला खरगजीत नगर में 40 साल के सर्वेश दिवाकर उर्फ मौला एक मकान में किराए पर रहता था. बीते रविवार को ही उसका मोहल्ले के लोगों से विवाद हुआ और दबंगों ने उसकी बुरी तरह पिटाई कर दी थी. वह गंभीर रूप से घायल हो गया. घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने उसे इमरजेंसी में भर्ती कराया, लेकिन सोमवार सुबह उसकी मौत हो गई.

इसके बाद साहुल जादौन पुत्र राजेंद्र सिंह, शिव जी उर्फ शिवम पुत्र श्रीपाल, राजन पुत्र अज्ञात सभी निवासी खरगजीतनगर तथा कुछ अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ हत्या की तहरीर दी गई है.

देखें वीडियो…

आरोपियों की जल्‍द गिरफ्तारी के आदेश
इस घटना की जानकारी मिलते ही एसपी अजय कुमार पांडेय मौके पर पहुंच गए. एसपी ने परिजनों से जानकारी लेने के बाद कोतवाली जाकर सर्वेश की बेटी और उनके अन्य परिजनों से भी बात की. उन्‍होंने एसपी को बताया कि सर्वेश की पत्नी सुनीता, बेटा भोला, बाबू कोलकाता में रहते हैं. पुत्री 14 वर्षीय हेमा अपने एक परिचित परिवारजन के साथ नोएडा चली गई थी. एसपी ने एएसपी मधुबन कुमार को निर्देश दिए कि वह आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी करें.

बेटी को बेचने की अफवाह गलत निकली
दलित शख्‍स की हत्या के पीछे कई वजह चर्चा में रहीं. आरोप था कि सर्वेश ने अपनी बेटी को 30 हजार रुपये में बेच द‍िया. लेकिन पुलिस ने आरोप की जांच की तो ऐसा कुछ नहीं पाया. मृतक के परिजनों ने भी इस आरोप को झूठा बताया. उन्‍होंने कहा कि सर्वेश ने अपनी बेटी को अच्‍छी तरह पाला-पोसा और आगे की पढ़ाई के लिए अपने एक रिश्‍तेदार के यहां भेज दि‍या. घटना के बाद मैनपुरी आई उसकी बेटी ने भी भी पुलिस को यही बताया.

(Dalit Awaaz.com के फेसबुक पेज को Like करें और Twitter पर फॉलो जरूर करें)