Rajasthan

Rajasthan Jalore priest stopped Dalit newlyweds from entering temple SC ST Act

Rajasthan: दलित नवदंंपत्ति‍ को पुजारी ने मंदिर में प्रवेश से रोका, बोला- तुम्‍हारी जगह बाहर है | VIDEO

नई दिल्‍ली/जोधपुर : (Dalit Atrocities) राजस्थान पुलिस (Rajasthan Police) ने जालोर (Jalore) के एक मंदिर में एक नवविवाहित दलित जोड़े (Newly Married Dalit Couple) को पूजा करने की अनुमति नहीं देने के आरोप में एक पुजारी को रविवार को गिरफ्तार किया. यह जानकारी अधिकारियों ने दी. शनिवार को हुई घटना का एक वीडियो भी वायरल हो गया, जिसमें वेला भारती जिले के अहोर अनुमंडल अंतर्गत नीलकंठ गांव में मंदिर के द्वार पर दलित दंपति (Dalit Couple) को कथित तौर पर रोकते दिख रहे हैं. वीडियो में उनके बीच हुई बहस भी रिकार्ड हो गई.

Dalit Atrocities : दलित को थूक में रगड़वाई नाक, मंदिर के लिए नहीं दिया था चंदा…

पीड़ित परिवार के सदस्यों ने उसके बाद पुलिस से संपर्क किया और पुजारी के खिलाफ अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार रोकथाम) अधिनियम (Scheduled Castes and Scheduled Tribes (Prevention of Atrocities) Act) के तहत मामला दर्ज कराया.

जालोर के पुलिस अधीक्षक हर्षवर्धन अग्रवाल ने रविवार को कहा, ‘‘हमने पुजारी के खिलाफ एससी/एसटी कानून (SC/ST Act) के तहत मामला दर्ज कर लिया है और उसे गिरफ्तार कर लिया है.’’

Madhya Pradesh: दलित दूल्हे को घोड़ी चढ़ने से रोका, कहा- इस गांव में दलित घोड़ी पर नहीं बैठेगा

शिकायत के अनुसार, कूका राम की बारात शनिवार को जालोर ((Rajasthan Jalore) नीलकंठ गांव पहुंची थी और नवविवाहित जोड़ा शादी के बाद मंदिर में नारियल चढ़ाना चाहता था.

राजस्थान: धौलपुर में पति-बच्चों के सामने दलित महिला से गैंगरेप, रोते-बिखलते रहे मासूम

दुल्हन के रिश्तेदार तारा राम की शिकायत के मुताबिक, ‘‘जब हम वहां पहुंचे तो पुजारी ने हमें प्रवेशद्वार पर रोक दिया और नारियल बाहर चढ़ाने को कहा. उन्होंने हमें मंदिर में प्रवेश नहीं करने के लिए कहा क्योंकि हम दलित समुदाय (Dalit Community) से हैं.’’

 

इसमें कहा गया कि कुछ ग्रामीण भी बहस में शामिल हो गए और पुजारी का समर्थन करते हुए कहा कि यह गांव का फैसला है और पुजारी के साथ बहस करने का कोई मतलब नहीं है. तारा राम ने कहा, ‘‘हमने पुजारी से बहुत गुहार लगाई लेकिन वह अड़े रहे. उसके बाद हमने पुलिस में पुजारी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई.’’

Rajasthan Dholpur Dalit woman Gang rape in front of husband children No Accused Arrest

राजस्थान: धौलपुर में पति-बच्चों के सामने दलित महिला से गैंगरेप, रोते-बिखलते रहे मासूम

धौलपुर. (Dalit Atrocities) राजस्थान (Rajasthan) के धौलपुर (Dholpur) जिले के कंचनपुर थाना इलाके में दबंगों की दरिंदगी को बयां करती एक खबर सामने आई है, जिसमें एक 24 वर्षीय दलित महिला (Dholpur Dalit Woman Gang Rape) को निर्वस्त्र कर उसके पति और बच्चों के सामने गैंगरेप किया. रिपोर्ट के अनुसार, गांव के ही दबंगों ने देसी कट्टा दिखाकर दलित महिला (Dalit Woman) के साथ वारदात को अंजाम दिया और मारपीट कर वहां से फरार हो गए. इस संबंध में कई आरोपियों के खिलाफ दलित पीड़िता की रिपोर्ट पर गैंगरेप और मारपीट (gang rape and assault on dalit woman) समेत अन्य संगीन धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है. अभी कोई भी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ पाया है.

Jaipur : पुलिस सुरक्षा में निकली दलित आईपीएस अधिकारी की बारात

रिपोर्ट के अनुसार, पीड़ित दलित महिला (Dalit Woman) की ओर से दर्ज कराई गई रिपोर्ट में उसने बताया है कि 15 मार्च की शाम करीब 6 बजे वह सरसों की फसल काटकर पति एवं बच्चों के साथ वापस अपने घर लौट रही थी. रास्ते में गांव के आधा दर्जन से ज्‍यादा दबंगों (Dabangs) उनका रास्ता रोक लिया. पहले से इन लोगों ने हथियार के बल पर उसके पति के साथ मारपीट की.

Rajasthan: सोसाइटी मैनेजर की मटकी से दलित युवक ने पी लिया पानी तो दी भद्दी जातिसूचक गालियां, देखें Video

रिपोर्ट के मुताबिक, इसके बाद आरोपियों ने पीड़िता को निर्वस्त्र कर पति एवं बच्चों के सामने ही उसके साथ गैंगरेप (Gang Rape in Rajasthan) किया. महिला के बच्‍चे जोर-जोर से रोते बिखलते रहे, लेकिन आरोपी वारदात को अंजाम देते रहे. ये लोग पीड़िता एवं उसके परिवार के साथ मारपीट कर वहां से फरार हो गए. इस घटना के बाद से पीड़िता का पूरा परिवार सदमे में है. पीड़िता ने कंचनपुर थाना पुलिस में आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया है.

राजस्‍थान में दलित उत्‍पीड़न चरम पर, बकरी चरा रहे युवक को मुंह में कपड़ा ठूंस रॉड से मारा

मामले के आईओ पुलिस उपाधीक्षक विजय कुमार सिंह के अनुसार, पीड़िता ने रिपोर्ट में आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप का नामजद केस दर्ज कराया है. पीड़िता का मेडिकल कराया गया है. आरोपियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

राजस्थान: आंबेडकर जयंती मनाने और पोस्टर लगाने से नाराज थे दबंग, दलित युवक को पीट-पीटकर मार डाला

बता दें कि करीब तीन साल पहले अलवर जिले के थानागाजी इलाके में भी बाइक पर जा रहे एक दंपति को कुछ युवकों ने रास्ते में रोककर पति को मारपीट कर बंधक बना बनाने बाद पति के सामने ही उसकी पत्नी को निर्वस्त्र कर उससे गैंगरेप किया था. बदमाशों ने इस वारदात का वीडियो बनाकर बाद में सोशल मीडिया में वायरल कर दिया. थानागाजी गैंगरेप केस (Thanagazi gang rape case) की गूंज देशभर में सुनाई दी थी.

Rajasthan: दबंगों के डर से भारी पुलिस फोर्स के बीच घोड़ी पर बैठा ‘दलित कांस्टेबल दूल्हा’

Jaipur Dalit IPS Officer Sunil Kumar Dhanwanta procession came out under Rajasthan police protection

Jaipur : पुलिस सुरक्षा में निकली दलित आईपीएस अधिकारी की बारात

जयपुर : सवर्णों के दलितों द्वारा बारात (Dalit’s Wedding) निकालने का विरोध किए जाने की पुरानी घटनाओं को देखते हुए राजस्‍थान  (Rajasthan) के जयपुर ग्रामीण (Jaipur Rural) में दलित आईपीएस अधिकारी (Dalit IPS Officer Sunil Kumar Dhanwanta) की बारात राजस्‍थान पुलिस (Rajasthan Police) की सुरक्षा में निकाली गई.

कोटपूतली (Kotputli) के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विद्याप्रकाश ने बताया कि मणिपुर कैडर के 2020 बैच के आईपीएस अधिकारी और कोटपूतली के जयसिंहपुरा गांव के निवासी सुनील कुमार धनवंत (26) (Dalit IPS Officer Sunil Kumar Dhanwanta) घोड़ी पर सवार होकर शादी की रस्मों की अदायगी के लिए बारात के साथ हरियाणा (Haryana) पहुंचे. विद्याप्रकाश ने कहा कि एहतियात के तौर पर सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे.

जयपुर : पुलिस के सख्‍त पहरे में निकली दलित IPS ऑफ‍िसर की बिंदौरी, बिना दहेज कर रहे शादी

उन्होंने बताया कि इससे पहले धनवंत मंगलवार को पास के सूरजपुरा गांव में ‘बिंदौरी’ समारोह के तहत भी पुलिस की निगरानी में घोड़ी पर सवार होकर आयोजन स्थल पर पहुंचे थे. पुलिस अधीक्षक (जयपुर ग्रामीण) मनीष अग्रवाल के मुताबिक, दूल्हे ने अपनी शादी के बारे में प्रशासन को पहले ही सूचित कर दिया था और किसी भी अप्रिय घटना को टालने के लिए जरूरी इंतजाम किए गए थे.

इससे पहले बीते मंगलवार को दलित आईपीएस ऑफि‍सर सुनील कुमार धनवंता (Dalit IPS officer Sunil Kumar Dhanwanta) की बिंदौरी पुलिस के सख्‍त पहरे के बीच निकाली गई. यह पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है. IPS सुनील धनवंता की शादी 18 फरवरी को है और खास बात यह है कि वह बिना दहेज लिए शादी कर समाज में मिसाल कायम कर रहे हैं.

Rajasthan: सोसाइटी मैनेजर की मटकी से दलित युवक ने पी लिया पानी तो दी भद्दी जातिसूचक गालियां, देखें Video

दरअसल, जयपुर (Jaipur) के शाहपुरा इलाके के भाबरू थाने इलाके के भगतपुरा जयसिंहपुरा गांव (Bhagatpura Jaisinghpura Village) के रहने वाले दलित आईपीएस अधिकारी सुनील कुमार धनवंता (Dalit IPS officer Sunil Kumar Dhanwanta) की बिंदौरी के लिए पुलिस-प्रशासन ने पूरे गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया था. हर तरह पुलिस का सख्‍त पहरा दिख रहा था. इस क्षेत्र में दलित दूल्हों की बिंदौरी के दौरान बाधा डालने की पूर्व की घटनाओं के मद्देनजर यह व्‍यवस्‍था की गई.

राजस्‍थान में दलित उत्‍पीड़न चरम पर, बकरी चरा रहे युवक को मुंह में कपड़ा ठूंस रॉड से मारा

Rajasthan Jaipur Bindori of Dalit IPS officer Sunil Kumar Dhanwanta came out under strict police guard

जयपुर : पुलिस के सख्‍त पहरे में निकली दलित IPS ऑफ‍िसर की बिंदौरी, बिना दहेज कर रहे शादी

जयपुर. राजस्‍थान (Rajasthan) में आज भी दलित दूल्‍हों (Dalit Grooms) का घोड़ी चढ़ना और धूमधाम से बारात निकालना कथित उच्‍च जातिवालों को नांगवारा है. यहां दलितों की बारातों पर होना आम बात है. पर अब प्रशासन दलित दूल्‍हों को सुरक्षा देने की पहल करता दिख रहा है. मंगलवार को दलित आईपीएस ऑफि‍सर सुनील कुमार धनवंता (Dalit IPS officer Sunil Kumar Dhanwanta) की बिंदौरी पुलिस के सख्‍त पहरे के बीच निकाली गई. यह पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है. IPS सुनील धनवंता की शादी 18 फरवरी को है और खास बात यह है कि वह बिना दहेज लिए शादी कर समाज में मिसाल कायम कर रहे हैं.

Rajasthan: सोसाइटी मैनेजर की मटकी से दलित युवक ने पी लिया पानी तो दी भद्दी जातिसूचक गालियां, देखें Video

दरअसल, जयपुर (Jaipur) के शाहपुरा इलाके के भाबरू थाने इलाके के भगतपुरा जयसिंहपुरा गांव (Bhagatpura Jaisinghpura Village) के रहने वाले दलित आईपीएस अधिकारी सुनील कुमार धनवंता (Dalit IPS officer Sunil Kumar Dhanwanta) की बिंदौरी के लिए पुलिस-प्रशासन ने पूरे गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया था. हर तरह पुलिस का सख्‍त पहरा दिख रहा था. इस क्षेत्र में दलित दूल्हों की बिंदौरी के दौरान बाधा डालने की पूर्व की घटनाओं के मद्देनजर यह व्‍यवस्‍था की गई.

राजस्‍थान में दलित उत्‍पीड़न चरम पर, बकरी चरा रहे युवक को मुंह में कपड़ा ठूंस रॉड से मारा

आईपीएस सुनील कुमार धनवंता की 18 फरवरी को शादी है. मंगलवार को सूरजपुरा निवासी उसके परिवार के लोगों ने दूल्हे को बान पर आमंत्रित किया था. इस पर दूल्हा धूमधाम से घोड़ी पर बैठकर डीजे के साथ सूरजपुरा पहुंचा. यहां परिवार के लोगों ने घोड़ी पर उसकी बिंदौरी निकाली.

राजस्थान: आंबेडकर जयंती मनाने और पोस्टर लगाने से नाराज थे दबंग, दलित युवक को पीट-पीटकर मार डाला

वहीं, आईपीएस सुनील धनवंता का कहना है कि उन्‍होंने पुलिस से कोई सुरक्षा नहीं मांगी थी. ऐहतियातन तौर पर पुलिस ने पर सुरक्षा व्यवस्था की थी. इस दौरान एडीएम और एसडीएम सहित कई अधिकारी और भारी पुलिस फोर्स यहां तैनात रही. शाम को कड़ी पुलिस सुरक्षा में आईपीएस की बिंदौरी निकाली गई.

Rajasthan: दबंगों के डर से भारी पुलिस फोर्स के बीच घोड़ी पर बैठा ‘दलित कांस्टेबल दूल्हा’

इस संबंध में जयपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक मनीष अग्रवाल का कहना है कि दूल्हों की बिंदौरी के दौरान व्यवधान की पुरानी घटनाओं के मद्देनजर एहतियात के तौर पर सूरजपुरा गांव में पुलिस अधिकारी की बिंदौरी में पुलिस फोर्स तैनात की गई थी.

राजस्‍थान की सभी खबरें पढ़ने के ल‍िए यहां क्लिक करें…