Scholarship

Delhi Jai Bhim Mukhyamantri Pratibha Vikas Yojana SC ST OBC EWS students again get free coaching monthly stipend

SC,ST, OBC, EWS छात्रों के लिए खुशखबरी, फ‍िर मिलेगी फ्री कोचिंग और मासिक वजीफा, मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने किया ऐलान

नई दिल्‍ली : प्रतियोगी परीक्षाओं (Competitive Exams) की तैयारी कर रहे अनुसूचित जाति (Scheduled Caste), अनुसूचित जनजाति (Scheduled Tribe), अन्य पिछड़ा वर्ग (Other Backward Classes) और ईडब्ल्यूएस श्रेणियों (EWS Category) से संबंधित छात्रों के लिए अच्‍छी खबर है. दिल्ली सरकार (Delhi Govt) की जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना (Jai Bhim Mukhyamantri Pratibha Vikas Yojana) फिर शुरू हो रही है. इस योजना के तहत छात्र जेईई, एनईईटी, सीएलएटी, सिविल सेवा, बैंकिंग, रेलवे, एसएससी आदि प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए निजी संस्थानों से मुफ्त कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं. कोरोना महामारी से लगे लॉकडाउन के कारण बंद हुई इस कल्‍याणकारी योजना के दोबारा शुरु होने की घोषणा दिल्‍ली के समाज कल्याण मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने की.

दलित छात्राओं को सरकारी खर्चे पर फ्री में मिलेगी NEET की कोचिंग, जानें कैसे…

46 पैनलबद्ध निजी कोचिंग संस्थानों से मुफ्त कोचिंग
दिल्‍ली के समाज कल्याण मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम (Rajendra Pal Gautam) ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सिविल सेवा, डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, बैंकर आदि बनने का सपना देखने वाले कई छात्र अपने माता-पिता के सामाजिक एवं आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण निजी कोचिंग से वंचित रह जाते हैं. इसे ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार की जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना (Jai Bhim Mukhyamantri Pratibha Vikas Yojana) को शरु किया गया, जिसके तहत छात्रों को 46 पैनलबद्ध निजी कोचिंग संस्थानों से मुफ्त कोचिंग दी जाती है. अभी तक 15 हजार छात्र इस योजना के लिए पंजीकरण करा चुके हैं. फ‍िलहाल शुरुआत में शुरुआत में 5000 छात्रों को यह सुविधा मिलेगी. इसके बाद में 15 हजार तक बढ़ा दिया जाएगा.

SC छात्रों को 10वीं के बाद सरकार देती है लाखों की स्‍कॉलरशिप, ऐसे करें अप्‍लाई, पूरी डिटेल

मंत्री राजेंद्र पाल गौतम बताते हैं कि पिछले साल कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण इस योजना को रोक दिया गया था, लेकिन अब दिल्ली में स्कूल और अन्य गतिविधियां खोलने की जो अनुमति दी गई है, उसे देखते हुए समाज कल्‍याण विभाग ने उक्‍त योजना को फिर से शुरू करने का फैसला किया है. छात्रों के आवेदन आमंत्रित किए जा रहे हैं.

SC छात्रों को city govt स्कीम के तहत दी जाएगी कोचिंग क्लास, जानिए सभी बातें

2,500 रुपये का मासिक वजीफा भी दिया जाएगा
उनके अनुसार, योजना के तहत निजी कोचिंग संस्थान में नि:शुल्क कोचिंग (Free Coaching to SC, ST, OBC, EWS Students) के साथ छात्र को 2,500 रुपये का मासिक वजीफा भी दिया जाएगा, जिसका उपयोग छात्र यात्रा या अध्ययन सामग्री की खरीद के लिए कर सकते हैं. योजना के तहत छात्रों  के पास किसी भी गैर-सूचीबद्ध कोचिंग संस्थानों में शामिल होने और योजना के तहत निर्धारित सीमा के अधीन शुल्क प्रतिपूर्ति प्राप्त करने का विकल्प भी है.

एससी छात्रों को तेलंगाना सरकार दे रही है स्कॉलरशिप, 4 आसान स्टेप में करें Apply

कोचिंग के लिए पात्रता
निशुल्क कोचिंग के लिए छात्र दिल्ली का निवासी और एससी, एसटी, ओबीसी, ईडब्ल्यूएस श्रेणियों से संबंधित होना जरूरी है. साथ ही छात्र की वार्षिक पारिवारिक आय सीमा 8 लाख रुपये तक होनी चाहिए. इसके अलावा छात्र का दिल्ली के स्कूलों से 10वीं और 12वीं कक्षा उत्तीर्ण होना भी जरूरी है.

पहली से 10वीं कक्षा तक के छात्र प्री मैट्रिक स्कॉलरशिप के लिए करें आवेदन, जानें पूरी डिटेल्स

ऐसे करें आवेदन
छात्र संलग्न निर्धारित प्रारूप में प्रवेश के लिए सीधे संस्थान में आवेदन कर सकते हैं. वहीं, संस्थान पात्रता मानदंड को पूरा करने और सीटों की उपलब्धता के आधार पर छात्रों का नामांकन करेगा. नामांकन के बाद संस्थान ऐसे छात्रों की पूरी सूची कोचिंग कार्यक्रम शुरू होने के सात दिनों के भीतर विभाग को देगा. वहीं, जो छात्र गैर-सूचीबद्ध संस्थान में पढ़ना चाहता है तो छात्र सीधे कोचिंग सेंटर को लिखते हुए निर्धारित प्रारूप में आवेदन कर सकते हैं. छात्रों को मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना को लिफाफे के सबसे ऊपर लिखना होगा व पत्र को आईटीओ स्थित विकास भवन भेजना होगा.

निशुल्‍क शिक्षा, स्‍कॉलरशिप और सरकार की कल्‍याणकारी शिक्षा योजनाओं के बारे में यहां पढ़ें…

Scholarship

दलित विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ मिलेगा वजीफा, 19 जून है आवेदन की आखिरी तारीख

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के शिक्षा विभाग (Uttar Pradesh Government) द्वारा राज्य के अनुसूचित जाति के छात्रों (Financial Help for Schedule caste students) को पढ़ाई के साथ वजीफा दिया जा रहा है. जो भी छात्र 9 से 11 कक्षा में दाखिला ले चुके हैं वो इसके लिए आवेदन कर सकते हैं.

राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए निर्देशों के अनुसार वजीफे का लाभ चयनित विद्यार्थियों को चालू शिक्षा सत्र से ही मिलना शुरू हो जाएगा.

वजीफे आवेदन के लिए पात्रता

– कक्षा 9वीं से 11वीं तक के छात्र जो इस सत्र के लिए स्कूल में दाखिला ले चुके हों.

– छात्र के पास अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है.

– जिला स्तर पर कक्षा 8 व 10 में पास होने वाले मेधावी छात्र-छात्राओं को प्रवेश दिलाने के लिए लिखित परीक्षा कराई जाएगी जिसके लिए 19 जून तक निर्धारित प्रारूप पर आवेदन पत्र डीआईओएस दफ्तर में जमा कराए जाएंगे.

अनुसूचित जाति के छात्रों को मिलेगी कितनी आर्थिक सहायता?

– राज्य सरकार द्वारा जारी की गई विज्ञप्ति के अनुसार कक्षा 9 के प्रत्येक विद्यार्थी को 75,500 रुपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी.

– कक्षा 11 के प्रत्येक विद्यार्थी को 1,25,000 रुपये की धनराशि सालाना वजीफा के रूप में दी जाएगी.

एससी छात्रों को तेलंगाना सरकार दे रही है स्कॉलरशिप, 4 आसान स्टेप में करें Apply

नई दिल्ली. तेलंगाना सरकार द्वारा एससी छात्रों के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप (Post Metric Scholarship) की घोषणा की गई है. राज्य के पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग द्वारा शुरू की गई इस स्कॉलरशिप योजना में 11वीं, 12वीं, आईटीआई, पॉलिटेक्निक, व्यावसायिक पाठ्यक्रम, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन और पीएचडी की पढ़ाई करने वाले छात्र (Scholarship for SC Students) आवेदन कर सकते हैं.

इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदन की आखिरी तारीख 31 मई 2021 है. स्कॉलरशिप के लिए चयनित होने वाले छात्रों को पूरी ट्यूशन फीस और अन्य लाभ दिए जाएंगे.

स्कॉलरशिप आवेदन के लिए पात्रता…

– इस स्कॉलरशिप के लिए वही छात्र आवेदन कर सकते हैं, जो तेलंगाना के मूल निवासी हैं.

– छात्र का मैट्रिक में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है. (जो छात्र एक बार फेल हो चुके हैं वो इस स्कॉलशिप के लिए पात्र नहीं होंगे)

– छात्र के माता-पिता की आर्थिक आय 2 लाख रुपये प्रति वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए.

– छात्र का प्रत्येक तिमाही के अंत में न्यूनतम 75% उपस्थिति होना अनिवार्य है.

4 आसान स्टेप में करें अप्लाई

– सबसे पहले तेलंगाना सरकार की आधिकारिक वेबसाइट telanganaepass.cgg.gov.in पर जाएं और स्कॉलशिप का चयन करें.

– सभी दस्तावेजों की लिस्ट को ध्यान से पढ़ें और डिटेल्स को भरें.

– राज्य सरकार की साइट पर दस्तावेज अपलोड करने के बाद वेरिफाई करें.

– इसके बाद समिट का बटन दबाएं और स्कॉलशिप का स्टेटस क्या है ये चैक करें.

Scholarship

एससी वर्ग के छात्रों के पास स्कॉलरशिप पाने का आखिरी मौका, एक क्लिक में करें अप्लाई

नई दिल्ली. गुजरात (Gujarat Government) में रहने वाले एससी वर्ग के छात्रों के पास स्कॉलरशिप पाने का सुनहरा अवसर है. गुजरात सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग ने पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप (Post Matric Scholarship for SC Students) के लिए एससी छात्रों से आवेदन आमंत्रित किए हैं.

विभाग का कहना है कि इस स्कॉलरशिप का मुख्य उद्देश्य राज्य में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में पढ़ने वाले दलित वर्ग के छात्रों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है. इस स्कॉलरशिप में आवेदन की आखिरी तारीख 20 मई है.

स्कॉलरशिप आवेदन के लिए पात्रता

– छात्र/छात्रा के पास अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है.

– आवेदक का किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज, विश्वविद्यालय या संस्थान में स्नातक से स्नातकोत्तर में दाखिला होना अनिवार्य है.

– छात्र की पारिवारिक आय 2,50,000 प्रति वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए.

– जो छात्र कॉरेस्पोंडेंस से अपनी पढ़ाई कर रहे हैं वो भी इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदन कर सकते हैं.

इन दस्तावेजों की होगी आवश्यकता

– अधिकारियों द्वारा जारी स्वप्रमाणित जाति प्रमाण पत्र

-आधार कार्ड की सेल्फ अटेस्टेड कॉपी

– बैंक पासबुक या कैंसिल चैक

– वर्तमान शैक्षणिक पाठ्यक्रम वर्ष की शुल्क रसीद

– ब्रेक एफिडेविट (यदि ब्रेक गैप एक वर्ष से अधिक है)

कैसे करें स्कॉलरशिप के लिए आवेदन

स्टेप 1 : सबसे पहले साइट पर जाएं pmmodiyojana.in और स्कॉलरशिप का चयन करें
स्टेप 2 : अपने मोबाइल नंबर या जीमेल का इस्तेमाल करके रजिस्टर्ड करें
स्टेप 3 : इसके बाद स्कॉलरशिप फॉर्म भरें और सभी दस्तावेजों को अपलोड करें
स्टेप 4 : सभी दस्तावेजों को चैक करके समिट का बटन दबाएं.