अयोध्‍या

Ayodhya Dalit Basti Fire

अयोध्या में दलितों की बस्ती में लगी भीषण आग, वजह साफ नहीं

उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अयोध्या (Ayodhya) जिले में ग्राम पंचायत तारडीह में एक दलित (Dalit) बस्ती में भीषण आग लग गई. इस आग में दो परिवारों का पूरा घर और उसमें रखा सारा सामान जलकर खाक हो गया. आग कैसे लगी, इसका पता अभी नहीं लग सका है.

आग लगने के बाद मौके पर पहुंचे लेखपाल ने पीड़ित परिवारों को सरकार से सहायता राशि दिलाने के लिए रिपोर्ट तहसील प्रशासन को भेज दी.

यह घटना तारुन थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत तारडीह की एक दलित बस्‍ती में घटी. ग्राम प्रधान हरिश्चंद्र निषाद के अनुसार, दलित बस्ती में धर्मेंद्र पुत्र मिट्ठू लाल के छप्पर से अचानक आग की लपटें निकलने लगीं. ग्रामीण जब तक आग पर काबू पा पाते, आग ने पड़ोसी किरन पत्नी तुलसी राम के छप्पर को भी पकड़ लिया.

अयोध्या (Ayodhya) में बाल कटवाने गए दलित (Dalit) युवक की हुई हत्‍या

देखते ही देखते दोनों परिवारों के घर जलकर खाक हो गए. हालांकि ग्रामीणों के प्रयास से आग पर काबू पा लिया गया.

इस आगजीन में धर्मेंद्र कुमार की दो साइकिल, चारा काटने की मशीन, 3 चारपाई, खाने-पीने का सामन, कपड़े व बर्तन तो किरन पत्नी तुलसी राम की एक साइकिल, राशन, चारपाई, बिस्तर समेत मकान में रखा सामान जलकर राख हो गई.

Dalit-murder-UP-POlice

अयोध्‍या: पुलिस ने 7 घंटे में सुलझाया दलित युवक की हत्‍या का केस..

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अयोध्या (Ayodhya) में बाल कटवाने गए दलित (Dalit) युवक की हुई हत्‍या का केस यूपी पुलिस (UP Police) ने सिर्फ 7 घंटे तक सुलझा लिया. पुलिस ने इस इस घटना के नामजत 6 आरोपियों को मर्डर के सिर्फ 7 घंटे में ही गिरफ्तार कर लिया.

हैदरगंज थाना (Hyderganj Police) क्षेत्र के कोरो राघवपुर गांव में इस वारदात को अंजाम दिया गया था. एसपी (ग्रामीण) शैलेंद्र कुमार सिंह के अनुसार, इस केस की जांच के लिए एक टीम गठित की गई थी. गठित पुलिस टीम ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

बीते एक मई की सुबह कोरो राघवपुर के बिजई का मैरवा निवासी बब्बू राम की हत्या में शामिल अभियुक्तों जगन्नाथ, आलोक, कपिल देव, सोनू उर्फ अजय, मुंशी, शिवम निवासी गण पंडित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों को पलटू वीर पुल से गिरफ्तार किया गया.

पुलिस ने इनके कब्‍जे से हत्या में प्रयुक्त बांका, कुल्हाड़ी व हंसिया भी बरामद कर लिया है.

दरअसल, पुलिस ने मृतक के भाई सियाराम की तहरीर पर थाने में 133/20 धारा 147, 148, 302 आईपीसी तथा एससी एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया था. एसएसपी आशीष तिवारी ने इसकी पुष्टि की.