Corona Crisis

Mayawati Covid 19 Lockdown

Corona Vaccination: मायावती बोलीं- पंजाब सरकार का आपदा में मुनाफा कमाना दुर्भाग्यपूर्ण

लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने पंजाब सरकार द्वारा आपदा में मुनाफा कमाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा है कि पंजाब की कांग्रेस सरकार कोरोना वैक्सीन (Punjab Government Corona Vaccine) केंद्र से 400 रुपये में खरीद कर उसे सरकारी अस्पतालों के जरिए जनता को उसका लाभ देने के बजाय उसे प्राइवेट अस्पतालों को 1060 रुपये में बेचकर आपदा में भी मुनाफा कमा रही है.

मायावती ने इसकी आलोचना करते हुए कहा कि पंजाब सरकार (Punjab Government) का यह कृत्य अशोभनीय, अमानवीय, निंदनीय व अति-दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की इस गलत हरकत का मीडिया द्वारा पर्दाफाश करने के बाद स्पष्ट है कि कोरोना वैक्सीन के संबंध में कांग्रेस नेतृत्व का अभी तक का जो भी स्टैंड व बयानबाजी आदि रही है उसमें गंभीरता कम व नाटकबाजी ज्यादा लगती है.

ये भी पढ़ें- युविका चौधरी के ‘भंगी’ वाले बयान पर बोले पति प्रिंस नरूला- ‘ये तो छोटी सी बात है’

इस दौरान मायावती ने मांग की केंद्र सरकार इस मामले पर उचित संज्ञान लें, ताकि आम जनता तक वैक्सीन पहुंच सकें.

दलित आवाज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें…

कोरोना संकट के बीच घबराए नहीं, पढ़ें ये विचार जो आपको देंगे धैर्य और संयम रखने की प्रेरणा

नई दिल्ली. कोरोना वायरस के कारण देश में उत्पन्न (Corona Crisis) हुए हालातों से हर कोई परेशान है. समाचार पत्र हो या न्यूज चैनल चारों तरफ नेगेटिव खबरों का एक अंबार सा लगा हुआ है. इन स्थितियों में दिमाग में कई तरह के नकारात्मक विचार आते हैं. मनोवैज्ञानिको का मानना है कि जब दिमाग नेगेटिव होता है तो शरीर पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है.

ऐसे में हम आपके लिए आज कुछ खास टिप्स लेकर आए हैं, जिन्हें पढ़ने के बाद आपके दिमाग में धैर्य और संयम रखने की नई प्रेरणा आएगी.

– खुद से वादा करें कि आप ‘इस क्षण’ के लिए समर्पित रहेंगे. इसका मतलब यह है कि आज, अभी जो क्षण है, वही आपका है और आपको उसका पूरा उपभोग करना होगा.

– मैं खुद से वादा करता हूं कि खुद को सबसे सुंदर, सकारात्मक और खुशहाल व्यक्ति बनाऊंगा. परिस्थितियां चाहे जैसी भी हों मैं हार नहीं मानूंगा.

– खुश रहें.. अपने को उस रूप में स्वीकार करें, जो आप इस क्षण हैं. अपने दिल, आत्मा, शरीर और दिमाग का अच्छी तरह से ख्याल रखें, ताकि पॉजिटिव एनर्जी आपके दिमाग में आए.

– अगर आपके आसपास बच्चे हैं तो उनसे प्ररेणा लीजिए. ऐसा इसलिए है क्योंकि बिना कारणों से हंसना, मुस्कुराना और दो पल में गमों को भुलाकर फिर से चेहरे पर मुस्कान लाने की कला सिर्फ बच्चों के पास ही है.

 

(दलित आवाज अपने सभी पाठकों से अनुरोध करता है कि वो इन परिस्थितियों में धैर्य और संयम न खोएं और सोच को सकारात्म बनाए रखें.)