यहां आज भी दलितों के बाल काटने से मना कर देते हैं नाईं, खुलेंगे सरकारी सैलून

Karnataka : Government Run Barber Shops For Dalits

Karnataka : Government Run Barber Shops For Dalits : ग्रामीण कर्नाटक (Karnataka) के विभिन्न हिस्सों में सैलून में जातिगत भेदभाव को समाप्त करने के लिए समाज कल्याण विभाग ने सरकार द्वारा संचालित नाई की दुकानें स्थापित करने की सिफारिश की है.

दरअसल, केरल में दलितों (Dalits) को आम सैलून का उपयोग करने से रोके जाने के बाद राज्‍य सरकार द्वारा गांवों में सरकार द्वारा संचालित नाई की दुकान शुरू करने के बाद यह कदम उठाया गया.

इस प्रस्ताव में कहा गया है कि “जैसा कि कई गांवों में दलितों को नाइयों की सेवाओं से वंचित किया जाता है, अत्याचार के मामले दायर किए जा रहे हैं, इसलिए, सभी ग्राम पंचायत सीमाओं में, स्थानीय निकाय द्वारा संचालित नाई की दुकान खोलना उचित है. समाज कल्याण विभाग आवश्यक धनराशि को मंजूरी दे सकता है.”

यह प्रस्ताव मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की अध्यक्षता में एससी/एसटी अत्याचार अधिनियम (SC/ST Atrocities Act) पर हालिया समीक्षा बैठक के दौरान दिए गए एजेंडे का एक हिस्सा था.

कर्नाटक के कुछ ग्रामीण इलाकों में यह अपमानजनक प्रथा अभी भी प्रचलित है और अक्सर यहां ऐसे मामले सामने आते हैं.

अक्टूबर 2019 में, नाइयों द्वारा दलितों के बाल काटने जैसी सेवा देने से इनकार करने के बाद पुलिस और तहसीलदार को तनाव फैलाने के लिए कदम उठाना पड़ा था. कोप्पल और धारवाड़ जैसे जिलों में भी ऐसे मामले सामने आए हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *