पंचायत चुनावों में वोट न देने से गुस्सा हुआ प्रधान, दलित युवक को सरेआम मारी गोली

UP Police

इटावा. पिछले दिनों उत्तर प्रदेश में संपन्न हुए पंचायत चुनावों (UP Panchcyat Elections) में कई जिलों में दलितों को प्रधान चुना गया है. इसी बीच इटावा जिले के सैफई में एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसने हर किसी को चौंका दिया है. जिले में नवविर्वाचित प्रधान ने एक दलित युवक (Dalit young boy) को सरेआम गोली मार कर घायल कर दिया.

पंजाब केसरी पर प्रकाशित खबर के अनुसार, नवविर्वाचित प्रधान को दलित युवक ने वोट नहीं दिया था, जिसका गुस्सा उसने गोली मारकर निकाला.

युवक इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती
दलित युवक को गोली लगने की घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस अधीक्षक ने कहा कि प्रधान ने दलित युवक को गोली इसलिए मारी, क्योंकि उसने उसे वोट नहीं दिया. फिलहाल युवक को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

घटना को अंजाम देकर फरार हुए आरोपी
पुलिस का कहना है कि घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी प्रधान और उसके साथी फरार हो गए हैं. फिलहाल सभी की तलाश जारी है. वहीं, इस घटना के बाद एक बार फिर सवाल उठने लगे हैं कि क्या एक दलित युवक को अपनी मनमर्जी से वोट देने का भी अधिकार नहीं है.

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *