Buddha Purnima

ध्यान में है वास्तविक सुख ज्ञान में है असीम शांति सदा रहे प्रभु का ध्यान यही कहती है बुद्ध की पाती हैप्पी बुद्ध पूर्णिमा

Buddha Purnima 2021: मन को शांति और जीवन को नई दिशा देंगे गौतम बुद्ध के विचार, पढ़ें

नई दिल्ली. भारत को वीरों और महात्माओं की जन्मभूमि कहा जाता है. यहां समय-समय पर अनेक समाज सुधारक, युग प्रवर्तक, धर्म प्रवर्तक जैसे महापुरुषों ने जन्म लिया है और अपने बताए गए सत्य और धर्म के रास्तों के जरिए विश्व को एक नई दिशा दी है. इन्हीं महापुरुषों में से एक हैं महात्मा बुद्ध.

आज पूरे देश में महात्मा बुद्ध की पूर्णिमा (Buddha Purnima 2021) मनाई जा रही है. इस खास मौके पर उनके द्वारा दिए गए संदेशों और विचारों को पढ़ना जरूरी है

महात्मा बुद्ध के विचार (Thoughts of Mahatma Buddha) न सिर्फ मन को शांति देते हैं, बल्कि जीवन को एक नई दिशा में ले जाते हैं. जहां मन में सिर्फ सकारात्मक सोच आती है और हमें नई राह पर ले जाती है.

– एक जलते हुए दीपक से हजारों दीपक रोशन किए जा सकते हैं, फिर भी उस दीपक की रोशनी कम नहीं होती है. उसी तरह खुशियां भी बांटने से बढ़ती है, कम नहीं होती.

– क्रोधित रहना, जलते कोयले को किसी दूसरे पर फेंकने की इच्छा से पकड़े रहने के समान है. यह सबसे पहले खुद को ही जलाता है.

– बुराई को बुराई से खत्म नहीं किया जा सकता, घृणा को केवल प्रेम द्वारा ही समाप्त किया जा सकता है, यह एक अटूट सत्य है.

– सत्य के मार्ग पर चलते हुए मनुष्य केवल दो ही गलतियां कर सकता हैं -पहली या तो पूरा रास्ता न तय करना, दूसरी या फिर शुरुआत ही न करना.

– भविष्य के बारे में मत सोचो और अतीत में मत उलझो, सिर्फ वर्तमान पर ध्यान दो, जीवन में खुश रहने का यही एक सही मार्ग है.

– मंजिल तक पहुंचने से ज्यादा महत्वपूर्ण, मंजिल तक की यात्रा अच्छे से करना होता है.

– आप चाहें जितनी भी अच्छी किताबें पढ़ लें, कितने भी अच्छे शब्द सुन लें, मगर जब तक आप उनको अपने जीवन में नहीं अपनाते तब तक उसका कोई लाभ नहीं.

– हजारों लड़ाइयां जीतने से अच्छा होगा कि तुम स्वयं पर विजय हासिल कर लो. फिर जीत हमेशा तुम्हारी होगी. इसे तुमसे कोई नहीं छीन सकता, न देवता और न दानव.

– हम जैसा सोचते हैं, वैसा बन जाते हैं.

 

दलित आवाज यूट्यूब पर भी उपलब्ध है. यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं.

Buddha Purnima 2021 greetings, Buddha Purnima 2021 Wishes, Buddha Purnima Facebook Status,Buddha Purnima WhatsApp Messages, Happy Buddha Purnima, बुद्ध पूर्णिमा 2031 बधाई, बुद्ध पूर्णिमा 2031 विश, बुद्ध पूर्णिमा फेसबुक स्टेट्स, बुद्ध पूर्णिमा संदेश, बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं

Buddha Purnima 2021 : इन खूबसूरत संदेशों के जरिए अपनों को दें बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं

नई दिल्ली. आज पूरे देश में बुद्ध पूर्णिमा (Buddha Purnima 2021) का त्योहार मनाया जा रहा है. गौतम बुद्ध एक आध्यात्मिक गुरु थे, जिनकी शिक्षाओं से बौद्ध धर्म की स्थापना हुई थी. अधिकांश इतिहासकारों ने बुद्ध के जीवनकाल को 563-483 ई.पू. के मध्य माना है. बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर देश-दुनिया में कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन होता है.

हालांकि कोरोना के कारण इस बार बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर दोस्तों और अपने संबंधियों से मिलना मुश्किल है. ऐसे में आप इन खूबसूरत संदेशों के जरिए अपनों को बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं दे (Buddha Purnima Messages) सकते हैं…

सच का साथ देते रहो
अच्छा सोचो अच्छा कहो
प्रेम धारा बनके बहो
आपके लिए बुद्ध जयंती शुभ हो
बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं

दिल में नेक ख्याल हो
और होठों पर सच्चे बोल
बुद्ध पूर्णिमा के अवसर सर
आपको शांति मिले अनमोल
बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं

 

ध्यान में है वास्तविक सुख
ज्ञान में है असीम शांति
सदा रहे प्रभु का ध्यान
यही कहती है बुद्ध की पाती
हैप्पी बुद्ध पूर्णिमा

प्रभु का हाथ आपके सर पर हो,
सुख समृद्धि आपके दर पर हो
जो आप चाहे वो जरूर पाए,
बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं

 

न हो द्वेष, न हो क्लेष
न हो मन में कोई भी शक
भगवान बुद्ध दे आपको
सुख, समृद्धि और शांति
आरंभ से अंत तक
बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं.

 

दलित आवाज यूट्यूब पर भी उपलब्ध है. यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं.

Buddha-Purnima-2020

बुद्ध पूर्णिमा : जानें गौतम बुद्ध से जुड़ीं खास बातें..

Balwinder Kaur Nandini
बलविंद कौर नन्‍दनी

आज बुद्ध पूर्णिमा (Buddha Purnima 2020) है. 563 ईसा पूर्व आज ही के दिन गौतम बुद्ध (Gautam Buddha) का जन्म हुआ था. इसी दिन उन्हें ज्ञान की प्राप्ति हुई और इसी दिन 483 ईसा पूर्व उनका महानिर्वाण भी हुआ. बुद्ध ने अपने जीवन में कभी कोई चमत्कार नहीं किया. ना ही खुद को कोई ईश्वरीय अवतार घोषित किया. वह पूर्णता वैज्ञानिक दृष्टिकोण रखते थे.

श्रीलंका, म्यांमार, थाईलैंड, कंबोडिया, जापान, कोरिया, वियतनाम, मंगोलिया, चीन, ताइवान, तिब्बत व भूटान आदि बौद्ध देशों के लोग बुद्ध को ईश्वर का अवतार नहीं मानते. भारत के हिंदुओं को छोड़कर पूरी दुनिया में बुद्ध को महामानव माना जाता है.

आइये जानते हैं बुद्ध (Buddha) से जुड़ीं खास बातें…

बुद्ध के 5 उपदेश (5 sermons of Buddha) :

1. हम हमारे विचारों के अनुसार आकृति रखते हैं; जैसा हम सोचते हैं, वैसे ही हो जाते हैं.

2. तीन चीजें छिपाई नहीं जा सकतीं: सूर्य, चंद्र और सत्य

3. शारीरिक आकर्षण आंखों को आकर्षित करता है, अच्छाई मन को आकर्षित करती है.

4.किसी चीज को इसलिए मत मानो की ये सदियों से चली आ रही हैं, या हमारे बुजुर्गों ने कही है, या किसी आस्थावादी किताब में लिखी है. किसी चीज को इसलिए मत मानो की ये स्वयं मैंने कही हैं. किसी चीज को मानने से पहले यह सोचो की क्या ये सही है. किसी चीज को मानने से पहले ये सोचो की क्या इससे मानव का, सभी जीवों का विकास संभव है. किसी चीज को मानने से पहले उसको बुद्धि की कसौटी पर कसो और आपको अच्छा लगे तो ही मानो, नहीं तो मत मानो.

5. तुम जिस के पीछे पड़ते हो उसी को खो देते हो.

बौद्ध धर्म के 5 मुख्य तीर्थ स्थान (5 main shrines of Buddhism) :

1. लुम्बिनी – जहां भगवान बुद्ध का जन्म हुआ.

2. बोधगया – जहां बुद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ.

3. सारनाथ – जहां से बुद्ध ने दिव्यज्ञान देना प्रारंभ किया.

4. कुशीनगर – जहां बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ.

5. दीक्षाभूमि, नागपुर – जहां भारत में बौद्ध धर्म का पुनरूत्थान हुआ.

बुद्ध द्वारा अपने अनुयायियों के लिए दिए गए 5 नियम (5 rules given by Buddha to his followers:):

1. अहिंसा का पालन करना

2. चोरी ना करना

3. नशीली चीजों का सेवन न करना

4. सत्य के मार्ग पर चलना

5. व्यभिचार न करना

बाबा साहब डॉ. बीआर आंबेडकर (Dr. BR Ambedkar) के अनुसार, उनकी बौद्ध धर्म की सोच जानने के लिए उनकी तीन पुस्तकें पढनी जरूरी हैं:

1. भगवान बुद्ध और उनका धम्म

2. बुद्ध और कार्ल मार्क्स

3. भारत में क्रांति और प्रतिक्रांति