अखिलेश यादव का ऐलान, सपा करेगी ‘बाबा साहेब वाहिनी’ का गठन

akhliesh yadav

लखनऊ. 2022 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों (UP Assembly Elections 2022) की तैयारियों में जुटे अखिलेश यादव (Akhliesh Yadav) ने दलित वोटों को अपने पक्ष में लाने के लिए बड़ा ऐलान किया है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आंबेडकर जयंती पर बाबा साहेब वाहिनी (Baba sahab vahini) का गठन करने की घोषणा की है.

फिलहाल इसे केंद्र सरकार के 14 अप्रैल को आंबेडकर जयंती पर सार्वजनिक अवकाश की घोषणा पर तंज कसने वाले अखिलेश यादव की घोषणा बड़ा यू टर्न माना जा रहा है. अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी अब डॉ. भीमराव आंबेडकर के विचारों पर सक्रिय रहेगी और प्रदेश में बाबा साहेब वाहिनी का गठन करेगी.

आंबेडकर के नाम किया ये ट्वीट
अखिलेश यादव ने ट्वीट किया है कि संविधान निर्माता आदरणीय बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर जी के विचारों को सक्रिय कर असमानता व अन्याय को दूर करने और सामाजिक न्याय के समतामूलक लक्ष्य की प्राप्ति के लिए, हम उनकी जयंती पर जिला, प्रदेश व देश के स्तर पर सपा की बाबा साहेब वाहिनी के गठन का संकल्प लेते हैं. है.

14 अप्रैल को दलित दिवाली मनाएंगे सपा कार्यकर्ता
इससे पहले समाजवादी पार्टी 14 अप्रैल को दलित दीवाली मनाने का ऐलान कर चुकी है. पार्टी कार्यकर्ता कार्यालय और अपने घरों-सार्वजानिक स्थलों पर दीप जलाकर बाबा साहब को नमन करेंगे. शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब उनसे ‘दलित दीवाली’ के नाम को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि नाम में क्या रखा है, नाम तो कोई भी हो सकता है…आंबेडकर दीवाली, संविधान दीवाली, समता दिवस- नाम तो कुछ भी रखा जा सकता है.