युवक की हत्या के बाद इस गांव से शुरू हुआ दलितों का पलायन, आखिरकार क्या है पूरी कहानी?

नई दिल्ली. हरियाणा के भिवानी के एक गांव की गलियां सुनसान हो गई हैं. घर तो हैं, लेकिन बाहर से ताला लटका हुआ है. नल सूख पड़ गए हैं. ऐसा इसलिए हो रहा है, क्योंकि एक युवक की मौत के बाद जातीय रंजिश न हो जाए इस डर से रातों-रात दलित समाज के लोग पलायन कर रहे हैं. दरअसल, पिछले दिनों गांव में युवक मोहित की उसी के खेतों में पानी देते समय उसी के नौकर अंकित ने सिर पर कस्‍सी मार कर मौत के घाट उतार दिया था. मृत मोहित सवर्ण जाति से था और आरोपी अंकित दलित समुदाय से है.

सवर्ण जाति के युवक की मौत के बाद पूरे गांव में हंगामा मच गया है. सवर्ण जाति के लोग दलितों पर किसी तरह की अप्रिय घटना को अंजाम न दें दे इसीलिए सभी लोग पलायन कर गए हैं.

पुलिस प्रशासन में भी मचा हड़कंप
गांवों से लोगों के पलायन की सूचना पाकर प्रशासन और पुलिस में हड़कंप मच गया. आनन फ़ानन में एसडीएम और डीएसपी गांव पहुंचे. गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर मृतक का अंतिम संस्कार करवाया गया. गांव के पंचों, सरपंच और गणमान्य लोगों की मौजूदगी में दोनों पक्षों की पंचायत कर गांवों में भाईचार व शांति बनाए रखने की अपील की गई. हालांकि इसके बावजूद दलित लोगों ने पलायन करने के लिए मजबूर हो गए.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *