पैसे लिए लेकिन 20 साल बाद भी नहीं हुई प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री, दलित समाज के लोगों ने एसपी के सामने लगाई गुहार

हांसी. हरियाणा के हांसी के उपमंडल के गांव ढाणी पीर वाली के रहने वाले दलित समाज के लोगों ने गांव के ही रामकिशन व लक्ष्मी देवी के खिलाफ उनको बेचे गए प्लॉटों की रजिस्ट्री उनके नाम न कराने तथा रजिस्ट्री कराने की बात कहने पर जातिसूचक गालियां देकर सरेआम अपमान करने, जान से मारने धमकियां देने के बारे में शुक्रवार को हांसी की पुलिस अधीक्षक निकिता गहलोत से मुलाकात की.

पुलिस अधीक्षक से मुलाकात के दौरान दलित समाज के लोगों ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करके गिरफ्तारी की मांग की. इसके साथ ही प्लाटों की रजिस्ट्री उनके नाम कराए जाने की बात कही, एसपी को दी गई शिकायत में गांव ढाणी पीर वाली के दलित समाज से संबंधित रामचंद्र, भतेरी देवी, शिवलाल, प्रताप समेत कई लोगों ने कहा कि उक्त रामकिशन व लक्ष्मी देवी ने करीबन 20- 25 साल पहले ₹30000 में 5-5 मरले के प्लाट उनको बेचे थे तथा उसकी एवज में धर्मवीर तथा रामचंद्र को लिखित सर्टिफिकेट भी जारी किए थे.

20-25 साल बाद भी नहीं करवाई गई रजिस्ट्री
शिकायतकर्ताओं को कहा गया था कि कुछ समय बाद वह अपने आप उनके नाम रजिस्ट्री करा देंगे. लेकिन 20 -25 साल बीत जाने के बाद भी आरोपीगण ने दलित समाज के लोगों के हक में रजिस्ट्री ना कराई, जबकि शिकायतकर्ता उक्त प्लाट पर 20- 25 सालों से मकान बनाकर रह रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः- केंद्र सरकार ने ठुकराया ‘मल्लाह’ को अनुसूचित जाति में शामिल करने का प्रस्ताव

जान से मारने की धमकी दे रहा हैं…
अब आरोपीगण का लड़का राजू धमकी दे रहा है कि वह तुम्हारे नाम रजिस्ट्री नहीं कराएंगे और इन प्लाटों पर लोन ले ले लेंगे और किस्तें तुमको करनी पड़ेगी. उन्होंने कहा की प्लाटों के समय पैसों के लेनदेन का गवाह तथा दस्तावेज भी इनके पास मौजूद है. जब शिकायतकर्ता आरोपीगण को रजिस्ट्री कराने के लिए कहते हैं तो दोनों आरोपीगण तथा उसका लड़का शिकायतकर्ताओं को जातिसूचक गालियां देते हैं तथा जान से मारने की धमकी देते हैं.इन शिकायतों को में एसपी हांसी ने हांसी थाना शहर में अग्रेषित कर थाना प्रभारी को कार्रवाई के लिए निर्देश दिए हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *