‘भंगी’ वाले बयान पर फंसी युविका चौधरी, गैर जमानती धाराओं के तहत केस दर्ज

yuvika chaudhary Dalit Delhi Police

नई दिल्ली. एक्ट्रेस युविका चौधरी अपने एक वीडियो में भंगी शब्द का इस्तेमाल कर बुरी फंसी हैं. उनके खिलाफ हांसी पुलिस ने अनुसूचित जाति व जनजाति अत्याचार अधिनियम के तहत एक FIR दर्ज की है. अनुसूचित जाति अधिकार मंच के कार्यकर्ता रजत कलसन की लिखित शिकायत पर यह एक्शन लिया गया है. मंच के कार्यकर्ता का आरोप है कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक जाति विशेष के लोगों को नीचा दिखाने का प्रयास किया गया है.

इस शिकायत के साथ शिकायतकर्ता ने उक्त वीडियो की सीडी भी दी गई थी, जिसकी साइबर सेल द्वारा औपचारिक जांच के बाद आज थाना शहर हांसी में युविका चौधरी के खिलाफ एक औपचारिक एफआइआर दर्ज कर की है.

गैर जमानती धाराओं के तहत दर्ज हुआ मामला

एफआईआर अनुसूचित जाति व जनजाति अत्याचार अधिनियम की धारा 3(1)(u) के तहत दर्ज की गई है जो कि गैर जमानती है. इस बारे में जानकारी देते हुए रजत कलसन ने बताया कि जल्द ही पुलिस इस मामले में युविका चौधरी को जांच में शामिल होने के लिए नोटिस जारी करेगी जिसके बाद उनकी संभावित गिरफ्तारी हो सकती है.

अनुसूचित जाति पर टिप्पणी करने का चलन हो गया है…

कलसन ने कहा कि आजकल अनुसूचित जाति समाज के बारे में अपमानजनक टिप्पणी करने का चलन सा हो गया है. पहले युवराज सिंह ने, उसके बाद मुनमुन दत्ता ने तथा अब युविका चौधरी ने भी अनुसूचित जाति के समक्ष के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की है तथा इनके खिलाफ मुकदमें भी दर्ज हुए हैं.

उन्होंने कहा कि वह इस मामले की अंत तक पैरवी करेंगे और इन सेलिब्रिटीज को सलाखों के पीछे भिजवाएंगे ताकि और कोई अनुसूचित जाति समाज के खिलाफ इस तरह की टिप्पणी करने की हिमाकत न कर सके .

दलित आवाज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *