Gang Rape

haryana police sohna Dalit Woman rape

दलित महिला का अपहरण कर 8 दिन तक किया गैंगरेप, रोज लगाते थे बेहोशी का इंजेक्‍शन

गुरुग्राम: हरियाणा (Haryana) के गुरुग्राम (Gurugram) में एक एक दलित महिला का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म (Gang Rape with Dalit Woman) करने का मामला प्रकाश में आया है. मामला सोहना (Sohna) क्षेत्र का है. बताया जा रहा है कि आरोपियों ने दलित महिला (Dalit Woman) को 8 दिन तक बंधक बनाए रखा और उसके साथ दुष्कर्म करते रहे. महिला का आरोप है कि 8 दिनों तक उसे बेसुध रखने के लिए आरोपी रोज शाम को इंजेक्‍शन लगाते थे.

रिपोर्ट के अनुसार, सदर थाना पुलिस ने इस बाबत 4 लोगों के खिलाफ अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म, जान से मारने की धमकी देने के तहत मामला दर्ज किया है. साथ ही महिला की मेडिकल जांच कराने के साथ ही उसके मजिस्‍ट्रेट के समक्ष 164 के बयान भी दर्ज कराए गए हैं.

सोहना क्षेत्र की रहने वाली दलित महिला (Dalit Woman) ने सदर सोहना थाना पुलिस को बताया कि बीते 29 जून की शाम को उसका दोस्त चिंटू उसे मिला था. दूसरे दिन सुबह 5 बजे उसे मंदिर के पास बुलाया गया. तय समय से 5 मिनट बाद एक सफेद रंग की कार वहां आकर रूकी, जिसमें आरोपी चिंटू अपने दोस्तों के साथ बैठा था. कार में बैठते ही चिंटू व उसके दोस्त दीपक, कुलदीप व संजू ने उसे नशीला पदार्थ पिला दिया. महिला का कहना है कि इसके बाद उसे कुछ याद नहीं.

आरोप है कि चारों उसे एक कमरे में ले गए. यहां पर उसे बंधक बनाकर रखा गया. आरोपी उसके साथ रोज वारदात को अंजाम देते थे. साथ ही उसके कंधे में एक इंजेक्शन भी लगा देते थे.

शिकायत में बताया गया है कि करीब 8 दिन बाद आरोपी उसके कपड़े बदलकर उसे बल्लभगढ़ छोड़ गए. इसके बाद उसने अपने देवर को फोन किया और इस घटना की पूरी जानकारी दी. उसका पति उसे वहां लेने आया. दो दिन तक उसकी तबियत बिल्‍कुल ठीक नहीं थी.

रविवार शाम को वह सदर थाना पहुंची. जहां पर पुलिस ने पूरी बात सुनने के बाद महिला पुलिस की मौजूदगी में उसका मेडिकल कराया. मेडिकल दुष्कर्म की पुष्टि हुई है. साथ ही मजिस्ट्रेट के सामने उसका बयान दर्ज कराया है. थाना प्रभारी सोहना के अनुसार मामला दर्ज होने के बाद से आरोपी फरार है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

दलित गैंगरेप पीड़िता को अस्पताल में जमीन पर बैठाया गया, मेडिकल के लिए घंटों करना पड़ा इंतजार

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में दलित महिलाओं के प्रति होने वाले अपराधों में कमी नहीं आ रही है. आए दिन दलित महिलाओं के साथ रेप, गैंगरेप, छेड़खानी जैसी घटनाएं घटित हो रही हैं. ताजा घटना क्रम में लखीमपुर खीरी जिले के फूलबेहड़ थाना क्षेत्र में दलित युवतियों से गैंगरेप (Gangrape with Dalit Girls) के मामले में एक और लापरवाही सामने आई है.

गैंगरेप की घटना के बाद पुलिस जब युवतियों को मेडिकल (Medical of Dalit gangrape victim) कराने के लिए अस्पताल ले गई तो वहां भी उनके साथ भेदभाव किया गया है. दलित युवतियों को अस्पताल में बैठने के लिए स्टूल तक नहीं दिया गया. रेप पीड़िताएं जमीन पर बैठी रहीं.

रात को पहुंची अस्पताल दोपहर तक नहीं हुआ मेडिकल
रिपोर्ट्स के मुताबिक शनिवार को फूलबेहड़ थाना क्षेत्र में तीन दलित युवतियों से गैंगरेप हुआ. पुलिस इनको रात को मेडिकल के लिए लेकर आई. हालांकि मेडिकल रविवार दोपहर तक होता रहा. मेडिकल के इंतजार में दलित युवतियों को घंटों तक अस्पताल की जमीन पर ही बैठी रहीं.

ये भी पढ़ेंः- झूठे आरोप लगाकर की दलित युवक की पिटाई, इलाज के लिए ले जाते वक्त मौत; ग्रामीणों का फूटा गुस्सा

डीएम ने मांगी जांच रिपोर्ट
घटना की जानकारी मिलते ही मामले पर डीएम अरविंद चौरसिया ने संज्ञान लिया है. एसडीएम सदर से जांच रिपोर्ट मांगी गई है.

दलित आवाज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें…

 

Gujarat Dalit Gang Rape

16 साल की मासूम से 3 युवकों ने किया गैंगरेप, कुएं में फेंका… और

जोधपुर. राजस्थान के करौली में एक 16 साल की मासूम के साथ 3 युवकों ने हैवानियत (Minor Girl Gangrape) की घटना को अंजाम दिया. यह घटना 29 मई की बताई जा रही है. बच्ची रोजाना की तरह सुबह 9 बजे जंगल में मवेशियों को चराने के लिए गई थी. देर शाम तक जब वह घर नहीं लौटी तो परिजनों ने तलाश शुरू की. कई घंटे खोजने के बाद अगले दिन सुबह एक कुएं से बच्ची की चिल्लाने की आवाज आई, जिसके बाद परिजनों ने उसे बाहर निकाला.

मासूम ने खुद बताई हैवानियत की पूरी कहानी
कुएं से बाहर आने के बाद बच्ची ने परिजनों को अपने साथ हुई हैवानियत की पूरी कहानी बताते हुए कहा कि उसके साथ 3 लोगों ने दुष्कर्म किया. पीड़ित मासूम ने बताया कि शनिवार को दोपहर गांव के 3 युवकों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया. इतना नहीं उन्हीं आरोपियों में से एक ने दूसरी बार फिर दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया और कुएं में फेंककर चले गए.

तीनों आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
बच्ची के परिजनों की तहरीर पर महिला थाना करौली (Rajasthan Police) ने गैंगरेप का मामला दर्ज कर तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है. सोशल मीडिया पर बच्ची को न्याय दिलाने के लिए आवाज उठी है. यूजर्स #करौली_SP_को_बर्खास्त_करो ट्रेंड पर ट्वीट कर बच्ची को न्याय देने की मांग कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें : जबलपुर : दलित युवक को बुरी तरह मारा, सिर मुंडवाकर थूक चटवाया, गांव में घुमाया

कुछ यूजर्स ने इस घटना का जिक्र करते हुए पूछा है कि आखिरकार कब तक एक मासूम दरिंदगी का शिकार होती रहेगी और प्रशासन घंटों तक मूक दर्शक बनकर बैठा रहेगा.

दलित आवाज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें…

Dalit, girl, rape, Bujurag, Banda, arrested, दलित, बच्ची, रेप, बुजुरग, बांदा, गिरफ्तार

प्रेमी ने फोन करके बुलाया और फिर 8 लोगों ने किया दलित लड़की से गैंगरेप

जालंधर. पंजाब के जालंधर में एक बेहद शर्मनाक घटना सामने आई है जहां एक नाबालिग दलित लड़की (Dalit girl rape in Punjab) के साथ आठ लोगों ने गैंगरेप किया. जानकारी के अनुसार लड़की एक लड़के से प्यार करती थी. लड़के ने उसे शादी का झांसा देकर बुलाया और अपने दोस्तों के साथ मिलकर गैंगरेप किया.

लड़की के परिवार वालों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस ने मामले पर कार्रवाई करते हुए आठ में से तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.  इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार लड़की बेहद गरीब दलित परिवार से आती है और मुख्य आरोपी संदीप ने लड़की को पहले प्यार के जाल में फंसाया और फिर उससे शादी का वादा किया.

पुलिस अधिकारी ने दी मामले की पूरी जानकारी
पुलिस ने मामले पर जानकारी देते हुए बताया कि संदीप ने लड़की को 15 मार्च को फोन करके दूसरे दिन हरियाणा के सिरसा के मंडी दबवली बस स्टैंड बुलाया. लड़की पंजाब के किलियांवाली में संदीप के साथ चली गई. दोनों साथ में जालंधर पहुंचे और लड़का उसे जालंधर स्थित एक कमरे में ले गया.

सभी ने एक के बाद एक लड़की के साथ रेप किया. आरोपियों ने पीड़िता के साथ रेप करने के बाद उसे 20 मार्च को उसके घर के बाहर छोड़कर भाग गए. इसके बाद लड़की के घरवालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई.