Breaking

अमेठी में दलित बच्‍ची से कथित रेप, 3 दिन तक होती रही ब्‍लीडिंग, पुलिस पर ठीक कार्रवाई न करने का आरोप

Dalit girl raped of in Amethi bleeding continued for three days police accused of not taking proper action

नई दिल्‍ली/अमेठी: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कौशांबी में दलित महिला से कथित गैंगरेप (Kaushambi Dalit Woman Gang Rape) के बाद अब अमेठी (Amethi) में दलित बच्‍ची से विभत्‍स रेप (Dalit Girl Raped) का मामला सामने आया है. मामला अमेठी के मोहनगंज थाना इलाके (Mohanganj Police Station area) का है. आरोप है कि पुलिस ने इस मामले में पहले ठीक से कार्रवाई नहीं की. बता दें कि अमेठी बीजेपी सांसद स्मृति ईरानी का संसदीय क्षेत्र है.

न्‍यूज एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के अनुसार, रेप की शिकार दलित लड़की की उम्र 10 साल है. जबकि आरोपी 17 साल का बताया जा रहा है. परिजनों द्वारा थाने में दी गई तहरीर के मुताबिक, बच्‍ची बीते 30 अगस्त की दोपहर गांव में ही खेल रही थी, तभी गांव का ही 17 साल का युवक उसे उठाकर ले गया और खेत में उसके साथ कथित दुष्कर्म किया.

तहरीर के मुताबिक, बच्‍ची को लगातार तीन दिन से रक्तस्राव हो रहा था. उसे परिजन डॉक्‍टर के पास ले गए, जहां लड़की ने अपने साथ हुई घटना के बारे में इस बात की जानकारी दी.

आरोप है कि मामले में पुलिस ने पहले ठीक से कार्रवाई नहीं की. रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस की भूमिका से नाराज तिलोई से भाजपा विधायक मयंकेश्वर शरण सिंह एवं प्रखंड प्रमुख मुन्ना सिंह ने मोहनगंज थाने पहुंचकर इस बाबत मुकदमा दर्ज कराया और पुलिस को उसकी कार्य प्रणाली के लिए फटकार लगाई.

इस संबंध में पुलिस उपाधीक्षक तिलोई अजय कुमार सिंह ने बताया कि मामला दर्ज कर विधिक कार्यवाही की जा रही है.

(Dalit Girl Raped)

ये भी पढ़ें :

अब कौशांबी में दलित महिला से गैंगरेप, केस दर्ज न कराने को लेकर पीड़िता को धमकाया

हाथरस केस : यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया- क्‍यों रात को लड़की का अंतिम संस्कार किया

Delhi Cantt Dalit Girl Rape & Murder Case की सभी खबरें यहां क्लिक कर पढ़ें… 

दिल्‍ली कैंट के बाद एक और दलित बच्‍ची से रेप व हत्‍या, घरवालों पर अंतिम संस्‍कार का दबाव डाला

त्रिलोकपुरी में दलित बच्‍ची से रेप मामले की सभी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *