Madhya Pradesh: दलित दूल्हे को घोड़ी चढ़ने से रोका, कहा- इस गांव में दलित घोड़ी पर नहीं बैठेगा

Madhya Pradesh Dalit groom stopped from climbing mare said Dalit will not sit on mare in this village

नई दिल्ली/धार : मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के धार जिले (Dhar District) के कानवन थाना अंतर्गत ग्राम खंडी गारा में शुक्रवार रात दबंगों ने दलित दूल्हे का घोड़ी पर चढ़ने से रोक दिया (Dalit groom stopped from riding a mare). दलित दूल्हे को घोड़ी पर बिठाकर गांव में बारात निकालने की तैयारी थी, लेकिन दबंगों ने दलित दूल्हे को घोड़ी पर नहीं चढ़ने दिया. जब अनुसूचित जाति (Scheduled Caste) वर्ग की बारात में दूल्हे को घोड़ी पर बिठाकर गांव में निकाले जाने का मामला बढ़ते देख पुलिस तक बुलानी पड़ी. तब कहीं जाकर पुलिस की मौजूदगी में दूल्हे को घोड़ी पर बैठाकर बारात निकाली गई. इस बाबत कानवन पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 5 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है.

उदयसिंह नानूराम बंजारीया निवासी बैंगनदा ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसके बेटे शैलेश की शादी गांव खंडी गारा में केसर सिंह की लड़की से हो रही थी. बीते शुक्रवार रात 10 बजे बारात खंडीगारा के गेट पर पहुंची तो यहां दूल्हे को घोड़ी पर बिठाया गया और गाजे बाजे के साथ बारात निकाली गई. इसी दौरान कुछ युवक बाइक से यहां आए और उन्‍होंने कहा कि इस गांव में दलित दूल्हा (Dalit groom) घोड़ी पर बैठकर नहीं जाएगा. उन्होंने जातिसूचक शब्दों (Caste Slur) का प्रयोग करते हुए गाली गलौज तक की. लड़की वालों ने इन युवकों को काफी मनाने की कोशिश की, लेकिन एक नहीं सुनी.

इसके चलते पुलिस को सूचना दी गई तो पुलिस के मौके पर पहुंचने पर ये युवक यहां से फरार हो . इसके बाद पुलिस की सुरक्षा में दूल्हे को दोबारा से घोड़ी पर बिठाकर बारात निकाली गई. बारात के आगे पीछे पुलिस के जवान चल रहे थे.

देर रात शादी संपन्न होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की और मामले में दिलीप सिंह, सिंह, गट्टू सिंह, नेपाल सिंह, दशरथ सिंह सभी निवासी खंडी गारा के विरुद्ध केस दर्ज किया गया.

(Dalit groom stopped from riding mare)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *