मुजफ्फरनगर: ‘कोई भी चमार राजबीर प्रधान की ट्यूबवेल, खेत की मेढ़, समाधि पर दिख गया तो 5000 जुर्माना और 50 जूते लगेंगे’

Muzaffarnagar Pawti Khurd village munadi viral by Rajbir Pradhan for Chamars

नई दिल्‍ली/मुजफ्फरनगर : देश को आजादी मिले 70 साल से ज्‍यादा होने को आए, लेकिन भारत में दलित समाज (Dalit Community) अभी तक जातिवाद के चंगुल से निकल नहीं पाया. उन पर आज भी तरह-तरह से अत्‍याचार (Dalit Atrocities) हो रहे हैं. मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां खुद को प्रधान मानने वाले एक राजबीर नामक शख्‍स ने पावटी खुर्द गांव (Muzaffarnagar Pawti Khurd Village) में मुनादी करा दी कि कोई भी चमार (Chamar) अगर राजबीर प्रधान की ट्यूबवेल, खेत की मेढ़ या समाधि पर दिख गया तो 5000 जुर्माना और 50 जूते लगेंगे. पुलिस इस मामले में गंभीर रुख अपनाए हुए है और मुनादी करने वाले शख्‍स को गिरफतार कर लिया गया है. जल्‍द ही आरोपी राजबीर को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Rajasthan: दलित नवदंंपत्ति‍ को पुजारी ने मंदिर में प्रवेश से रोका, बोला- तुम्‍हारी जगह बाहर है | VIDEO

इस मामले के सामने आने के बाद भीम आर्मी के मुखिया (Bhim Army Chief) और आजादी समाज पार्टी (Azad Samaj Party) के अध्‍यक्ष चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) ने नाराजगी जताई और घोषणा की है कि राजबीर प्रधान की ये गलतफहमी दूर करने वह जल्द पावटी जाएंगे. उन्‍होंने लिखा, यूपी के ज़िला मुज़फ़्फ़रनगर के गांव पावटी खुर्द में खुलेआम मुनादी हो रही है कि “कोई भी ‘चमार’ (Chamar) उसकी डोल, समाधि,ट्यूबवेल पर दिख गया तो 5 हजार रुपए जुर्माना और 50 जूते होंगे! हिंदू बनने का जिनको शौक़ चढ़ा था, उन्हें अब समझ आ गया होगा. वैसे इनकी गलतफहमी दूर करने मैं जल्द पावटी जाऊंगा. ये है मोदी और योगी के रामराज्य की एक झलक. लेकिन याद रखिये यह गुलाम भारत नही है, यह आजाद भारत है जो भारतीय संविधान से चलता है. भीम आर्मी के रहते ये गुंडागर्दी अब नहीं चलेगी.

क्‍या आप मायावती से डरते हैं? जानिए क्‍या था चंद्रशेखद आजाद का बेबाक जवाब

 

Dalit Atrocities : दलित को थूक में रगड़वाई नाक, मंदिर के लिए नहीं दिया था चंदा…

दरअसल, मुजफ्फरनगर कोर्ट (Muzaffarnagar Court) में पेशी के दौरान मारे गए कुख्यात विक्की त्यागी के पिता राजबीर प्रधान के नाम से पावटी खुर्द में मुनादी कराई गई है कि अनुसूचित जाति की चमार जाति से ताल्‍लुक रखने वाला का कोई भी व्यक्ति उसकी ट्यूबवेल, खेत की मेढ़ या समाधि पर दिख गया तो उसे पांच हजार रुपये जुर्माना और 50 जूते लगाए जाएंगे.

Madhya Pradesh: दलित दूल्हे को घोड़ी चढ़ने से रोका, कहा- इस गांव में दलित घोड़ी पर नहीं बैठेगा

इस मुनादी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाने पर मुजफ्फरनगर पुलिस हरकत में आई और मुनादी करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है. एसएसपी अभिषेक यादव (SSP Abhishek Yadav) का कहना है कि गंभीर धाराओं में मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है. राजवीर की गिरफ्तारी भी अति शीघ्र कराई जाएगी.

राजस्थान: धौलपुर में पति-बच्चों के सामने दलित महिला से गैंगरेप, रोते-बिखलते रहे मासूम

बता दें कि जिस राजबीर प्रधान नाम के व्‍यक्ति ने यह मुनादी कराई वह विक्रांत उर्फ विक्की त्यागी का पिता है, जिसकी फरवरी 2015 में कोर्ट में पेशी के दौरान हत्या कर दी गई थी. एसओ ज्ञानेश्वर बौद्ध ने पुलिसकर्मी विक्की त्यागी के घर पर भेजे, लेकिन कोई मिला नहीं.

(Muzaffarnagar Pawti Khurd Village)

Jharkhand : रामगढ़ में दलित युवती से रेप कर उसकी फिल्म बनाने वाला गिरफ्तार

दलित उत्‍पीड़न से जुड़े सभी समाचार यहां पढ़ें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *