गैंगरेप

Rajasthan-Nagaur-Dalit-Woman-Gang-Rape

राजस्‍थान: दलित लड़की के साथ पहले गैंगरेप, फिर बार-बार हुई ज्यादती, प्रेग्‍नेंट होने पर हुआ खुलासा

राजस्थान (Rajasthan) के भरतपुर (Bharatpur) में दलित लड़की (Dalit Girl) के साथ-साथ घ‍िनौनी वारदात सामने आई है. यहां कामां थाना इलाके में एक 13 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ उसके ही गांव के तीन युवकों ने कथित रूप से गैंगरेप (Gang rape) किया.

गंभीर बात यह है कि तीनों आरोपी लड़की को धमकाकर बार-बार उसके साथ सामूहिक दुष्‍कर्म करते रहे और बच्‍ची गर्भवती हो गई.

रिपोर्ट के अनुसार, इस शर्मनाक वारदात का खुलासा होने पर लड़की के परिजन इसकी शिकायत लेकर थाने पहुंचे. पुलिस को दी शिकायत में उनकी तरफ से बताया कि उनकी बेटी तीन महीने से ज्‍यादा की गर्भवती हो गई है.

पढ़ें- राजस्‍थान के नागौर में दलित महिला से एक साल से हो रहा था गैंगरेप, क्‍योंकि…

उन्‍हें खुद इस बात का पता तब चला जब बच्‍ची ने पेट दर्द की शिकायत अपने परिजनों से की. पेट में दर्द की शिकायत पर जब लोग उसे लेकर अस्पताल पहुंचे.

पुलिस की ओर से गैंगरेप के आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. उनकी धरपकड़ अभी बाकी है.

पढ़ें- राजस्‍थान के टोंक से बुरी खबर, दलित छात्रा का शव संदिग्‍ध हालत में मिला

कामां पुलिस थाने में परिजनों की ओर से दी गई शिकायत के अनुसार करीब 4 महीने पहले नाबालिग दलित बच्ची जब खेत पर पर जा रही थी तो गांव के 3 युवक सद्दाम, तौफीक, मम्मन उसे उठाकर सरसों के खेत में ले गए. यहां उन्‍होंने बारी बारी से उसके साथ दुष्‍कर्म किया.

केवल यही नहीं उन्‍होने यह बात किसी को न बताने की धमकी भी बच्‍ची को दी और उसे जान से मारने की धमकी दी.

रिपोर्ट के अनुसार, गांव के तीनों दुष्कर्मी अब पीड़िता के परिजनों को जान से मारने की धमकी भी दे रहे हैं कि उनके खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज नहीं कराया जाए.

केस की जांच कामां के पुलिस वृत्ताधिकारी देवेंद्र सिंह रजावत को सौंपी गई है.

ये भी पढ़ें- गुजरात में नाबालिग दलित लड़की से गैंगरेप, कोरोना जांच को भेजे गए आरोपी

दलित लड़की से घर में घुसकर रेप, आरोपी निकला ओवैसी की पार्टी AIMIM का सदस्‍य

दलित लड़की से रेप करने वाला गिरफ्तार, SC/ST Act में केस भी दर्ज

मुजफ्फरनगर : घर में घुसकर किया गया दलित लड़की का रेप

भोजपुर में दलित छात्रा से गैंगरेप, सरकार के रवैये से नाराज़ दलितों ने उठाई आवाज़

ग्राम प्रधान ने दलित युवक को पीटा, पत्‍नी को जातिसूचक गालियां दीं, रेप कर परिवार को गोली मारने की धमकी दी

Gujarat Dalit Gang Rape

गुजरात में नाबालिग दलित लड़की से गैंगरेप, कोरोना जांच को भेजे गए आरोपी

गुजरात (Gujarat) के महिसागर (Mahisagar) में एक नाबालिग दलित (Dalit) लड़की से गैंगरेप (Gangrape) का मामला सामने आया है. इस मामले में पुलिस की ओर से 4 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है. रिपोर्ट के अनुसार,आरोपियों को पकड़ लिया गया है.

हालांकि पीडि़ता के पिता का कहना है कि पुलिस ने केवल एक ही आरोपी को नामजद किया है. जबकि बाकियों को पुलिस बचा रही है. महिसागर पुलिस का कहना है कि उसने चारों आरोपियों को पकड़कर कानूनी कार्रवाई शुरु कर दी है.

वन इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, इस वारदात को बीते 16 मई को अंजाम दिया गया. रिपोर्ट के अनुसार, पीड़िता के पिता द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत में बताया गया है कि उसकी बेटी कचरा डालने के लिए पास के खेत में गई हुई थी. आरोपियों ने एक-एक कर उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद नाबालिग अपने घर पहुंची और उसने परिजनों को इसकी जानकारी दी.

कर्नाटक : दलित संगठन के युवा नेता की घर के बाहर निर्मम हत्‍या

इसके बाद परिजन उसे पुलिस थाने ले गए और शिकायत दर्ज कराई गई. इसी आधार पर पुलिस ने गांव के चारों आरोपियों को हिरासत में ले लिया.

आरोपियों की उम्र 20 से 22 साल के बीच बताई गई. पीड़िता के पिता ने एक वीडियो जारी कर कहा कि, मेरी बेटी से हुई दरिंदगी के मामले में पुलिस ने एफआईआर में चार के बजाए सिर्फ एक का ही नाम दर्ज किया है. बाद में चारों आरोपियों को पकड़ा गया.

हालांकि, पुलिस की तरफ से कहा गया है कि शुरू में पीड़िता हमारे पास आई तो उसने केवल एक आरोपी का ही नाम लिया, लेकिन पूछताछ में 3 और लोगों के नाम सामने आने पर उसे FIR में दर्ज कर सभी को पकड़ लिया गया.

लॉकडाउन में बढ़ीं जातिगत हिंसा, 30 बड़ी घटनाएं सामने आईं, प्रवासी मजदूरों पर भी हमले बढ़े- रिसर्च

पुलिस उपाधीक्षक धवल भट्ट के अनुसार, आरोपियों पर गैंगरेप, पॉक्सो अधिनियम, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है.

बहरहाल, चारों को कोरोना जांच के लिए कोविड-19 टेस्ट सेंटर भेजा गया है और रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद गिरफ्तार किया जाएगा.

(Dalit Awaaz.com के फेसबुक पेज को Like करें और Twitter पर फॉलो जरूर करें…)