IIT संस्थान में अनुसूचित जाति के छात्रों के साथ दुर्व्यवहार

नई दिल्ली. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़गपुर (IIT Kharagpur) के एसोसिएट प्रोफेसर द्वारा ऑनलाइन कक्षा में अनुसूचित जाति, एससी और अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों के साथ दुर्व्यवहार का मामला सामने आया है. पत्रिका पर प्रकाशित खबर के अनुसार इस ऑनलाइन कक्षा में शारीरिक रूप से अक्षम विद्यार्थी भी मौजूद थे. इस घटना के बाद से मांग की जा रही है कि प्रोफेसर को काॅलेज से बर्खास्त किया जाए.

दरअसल, रविवार दोपहर को सोशल मीडिया पर छात्रों के एक अनौपचारिक समूह ने गुमनाम पोस्ट की थी. इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है. क्लिप मानव और सामाजिक विज्ञान विभाग से अंग्रेजी की प्रोफेसर सीमा सिंह द्वारा पढ़ाई गई ऑनलाइन प्रारंभिक कक्षाओं की है. इसमें कई छात्रों और अभिभावकों ने भाग लिया था.

प्रोफेसर ने दी जातिवादी गालियां
इस दौरान प्रोफेसर को बार-बार गालियां देते हुए सुना जा सकता है. आईआईटी खड़गपुर के रजिस्ट्रार तामल नाथ के अनुसार संस्थान वीडियो की सत्यता की समीक्षा कर रहा है. उन्होंने कहा कि शिक्षक ने जातिवादी गालियां दीं, जिसके बाद छात्रसंघ ने कार्रवाई की मांग की है.

सीमा सिंह खड़गपुर के मानविकी विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर हैं और वह ऐसे छात्रों की कक्षाएं लेती हैं जो शारीरिक अक्षमता और आरक्षित वर्ग के हैं.

आरक्षित वर्ग के ऐसे छात्रो जो कट-आफ के करीब हैं, मगर उन्हें सीट नहीं मिल पाई हैं, उनके लिए प्रीपेटरी कक्षा लगाई जाती हैं. जो छात्र यहां पर बेहतर प्रदर्शन करता है, उन्हें अगले साल आईआईटी में प्रवेश दिया जाता है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *