Ambedkar Jayanti: तेलंगाना, आंध्र के सीएम और राज्यपालों ने डॉ. आंबेडकर को दी श्रद्धांजलि, कहा- आंबेडकर एक वैश्विक बुद्धिजीवी थे

Bhimrao Ramji Ambedkar, Ambedkar Jayanti, Chaityabhoomi, ambedkar jayanti, ambedkar, ambedkar jayanti 2023, dr babasaheb ambedkar, br ambedkar, 14 april 2023, dr br ambedkar, dr bhimrao ambedkar, bhimrao ambedkar, babasaheb ambedkar, 14 april ambedkar jayanti, dr ambedkar, dr babasaheb ambedkar jayanti, 14 april, ambedkar photos, bhimrao ambedkar jayanti, ambedkar quotes babasaheb ambedkar jayanti, baba saheb, world biggest jayanti, ambedkar birthday bhim rao ambedkar jayanti, baba saheb ambedkar, baba saheb ambedkar jayanti, bhim jayanti 2023, भीमराव रामजी अम्बेडकर, अम्बेडकर जयंती, चैत्यभूमि, अम्बेडकर जयंती, अम्बेडकर, अम्बेडकर जयंती 2023, डॉ बाबासाहेब अम्बेडकर, ब्र अम्बेडकर, 14 अप्रैल 2023, डॉ बी आर अम्बेडकर, डॉ भीमराव अम्बेडकर, भीमराव अम्बेडकर, बाबासाहेब अम्बेडकर, 14 अप्रैल अम्बेडकर जयंती, डॉ अम्बेडकर , डॉ बाबासाहेब अम्बेडकर जयंती, 14 अप्रैल, अम्बेडकर तस्वीरें, भीमराव अम्बेडकर जयंती, अम्बेडकर उद्धरण बाबासाहेब अम्बेडकर जयंती, बाबा साहेब, दुनिया की सबसे बड़ी जयंती, अम्बेडकर जन्मदिन भीम राव अम्बेडकर जयंती, बाबा साहेब अम्बेडकर, बाबा साहेब अम्बेडकर जयंती, भीम जयंती 2023

हैदराबाद/अमरावती : तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्रियों और राज्यपालों ने शुक्रवार को भारतीय संविधान के निर्माता डॉ बी.आर. आंबेडकर को उनकी जयंती (Dr. BR Ambedkar Birth Anniversary) पर श्रद्धांजलि दी. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने कहा कि अम्बेडकर के जीवन से प्रेरणा मिलती है कि हमें बाधाओं का सामना पूरे आत्मविश्वास के साथ करना चाहिए. मुख्यमंत्री केसीआर कहा कि आंबेडकर (Ambedkar) ने बचपन से ही रंग और जाति के नाम पर भेदभाव और छुआछूत की सामाजिक बुराइयों का डटकर सामना किया. वह एक बहादुर और महान व्यक्ति हैं. आंबेडकर जयंती (Ambedkar Jayanti) पर अपने मैसेज में सीएम केसीआर ने कहा कि आंबेडकर एक वैश्विक बुद्धिजीवी थे, जिन्होंने ज्ञान के प्रकाश से समाज में बुराइयों को दूर कर सुधारने का काम किया.

Ambedkar Jayanti

सीएम केसीआर ने डॉ आंबेडकर को भारतीय संविधान के जनक (Dr. Ambedkar, father of the Indian Constitution) के रूप में उनकी 132वीं जयंती, देश की दिशा बदलने में उनकी भूमिका और राष्ट्र के लिए उनकी सेवाओं को याद किया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र, जाति के आधार पर भेदभाव, छुआछूत, धर्मांतरण, महिला अधिकार, धर्म, आर्थिक सुधार, इतिहास और अर्थव्यवस्था सहित कई विषयों पर आंबेडकर के लेखन, भाषणों और आलोचनाओं ने पूरे विश्व को सोचने पर मजबूर कर दिया है.

डॉ. बी.आर. आंबेडकर की लिखित महान किताबें और लेखन के बारे में जानें और यहां पढ़ें

उन्होंने कहा कि आंबेडकर ने एक आधुनिक भारत बनाने के लिए अपना पूरा जीवन बलिदान कर दिया.

सीएम केसीआर ने कहा कि आंबेडकर की जयंती (Ambedkar Jayanti) पर हैदराबाद के बीचोबीच उनकी 125 फीट ऊंची प्रतिमा लगाना न सिर्फ तेलंगाना राज्य के लिए बल्कि पूरे देश के लिए गौरव की बात है.

Dr. BR Ambedkar Education Qualification and Degrees : डॉ. आंबेडकर के पास कौन-कौन सी डिग्रियां थीं…

सीएम केसीआर ने कहा कि राज्य सरकार सामाजिक भेदभाव का सामना कर रहे एससी समुदायों के उत्थान के लिए विशेष योजनाएं लागू कर रही है.

राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन ने भी आंबेडकर को श्रद्धांजलि अर्पित की. उन्होंने कहा कि वह भारत के महान सपूतों में से एक हैं, जिन्होंने देश के संविधान को आकार दिया. वह एक समाज सुधारक और एक प्रसिद्ध वकील थे.

राजनीति में नायक पूजा अंत में तानाशाही की ओर ले जाएगी…. डॉ. बीआर आंबेडकर

राज्यपाल ने कहा, हम सभी को संविधान के आदर्शो और शासनादेशों का पालन करना चाहिए और इसके तहत बनाए गए संवैधानिक कार्यालय/संस्थानों का सम्मान करना चाहिए, ताकि हमारा राष्ट्र अपने प्राचीन काल के गौरव को प्राप्त कर सके.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि आंबेडकर एक बहुआयामी व्यक्तित्व थे जिन्हें कानूनी, सामाजिक, राजनीतिक, आर्थिक, आध्यात्मिक और अन्य क्षेत्रों में अपार ज्ञान था. उन्होंने कहा कि संविधान निर्माता ने देश की राजनीतिक, लोकतांत्रिक और सामाजिक व्यवस्था के लिए ठोस नींव रखी.

जगन मोहन रेड्डी ने कहा, मतभेदों को भूलने और मानवता को फलने-फूलने के उनके प्रयासों को भुलाया नहीं जा सकता. उस महान व्यक्ति के नक्शेकदम पर चलते हुए, हमने गरीबी उन्मूलन और सामाजिक न्याय सशक्तिकरण में ऐतिहासिक कदम उठाए हैं.

बाबा साहेब से संबंधित सभी लेख यहां क्लिक कर पढें…

आंध्र प्रदेश के राज्यपाल एस. अब्दुल नजीर ने अपने संदेश में कहा कि डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर एक प्रख्यात न्यायविद्, संविधान के जनक थे. अपने पूरे जीवन में, उन्होंने सामाजिक, आर्थिक और शैक्षिक रूप से कमजोर वर्गो के सशक्तिकरण के लिए संघर्ष किया.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

संयुक्‍त राष्‍ट्र में ‘दलित छात्रा’ ने बढ़ाया ‘भारत का मान’ शूरवीर तिलका मांझी, जो ‘जबरा पहाड़िया’ पुकारे गए खुशखबरी: हर जिले में किसान जीत सकते हैं ट्रैक्‍टर जब कानपुर रेलवे स्‍टेशन पर वाल्‍मीकि नेताओं ने किया Dr. BR Ambedkar का विरोध सुभाष चंद्र बोस और डॉ. बीआर आंबेडकर की मुलाकात Dr. Ambedkar Degrees : डॉ. आंबेडकर के पास कौन-कौन सी डिग्रियां थीं ‘धनंजय कीर’, जिन्होंने लिखी Dr. BR Ambedkar की सबसे मशहूर जीवनी कांशीराम के अनमोल विचार व कथन जो आपको पढ़ने चाहिए जब पहली बार कांशीराम ने संसद में प्रवेश किया, हर कोई सीट से खड़ा हो गया डॉ. आंबेडकर के पास थीं 35000 किताबें…
सुभाष चंद्र बोस और डॉ. बीआर आंबेडकर की मुलाकात संयुक्‍त राष्‍ट्र में ‘दलित छात्रा’ ने बढ़ाया ‘भारत का मान’ शूरवीर तिलका मांझी, जो ‘जबरा पहाड़िया’ पुकारे गए डॉ. आंबेडकर के पास थीं 35000 किताबें… जब पहली बार कांशीराम ने संसद में प्रवेश किया, हर कोई सीट से खड़ा हो गया जब कानपुर रेलवे स्‍टेशन पर वाल्‍मीकि नेताओं ने किया Dr. BR Ambedkar का विरोध खुशखबरी: हर जिले में किसान जीत सकते हैं ट्रैक्‍टर कांशीराम के अनमोल विचार व कथन जो आपको पढ़ने चाहिए Dr. Ambedkar Degrees : डॉ. आंबेडकर के पास कौन-कौन सी डिग्रियां थीं ‘धनंजय कीर’, जिन्होंने लिखी Dr. BR Ambedkar की सबसे मशहूर जीवनी