दलित गैंगरेप पीड़िता को अस्पताल में जमीन पर बैठाया गया, मेडिकल के लिए घंटों करना पड़ा इंतजार

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में दलित महिलाओं के प्रति होने वाले अपराधों में कमी नहीं आ रही है. आए दिन दलित महिलाओं के साथ रेप, गैंगरेप, छेड़खानी जैसी घटनाएं घटित हो रही हैं. ताजा घटना क्रम में लखीमपुर खीरी जिले के फूलबेहड़ थाना क्षेत्र में दलित युवतियों से गैंगरेप (Gangrape with Dalit Girls) के मामले में एक और लापरवाही सामने आई है.

गैंगरेप की घटना के बाद पुलिस जब युवतियों को मेडिकल (Medical of Dalit gangrape victim) कराने के लिए अस्पताल ले गई तो वहां भी उनके साथ भेदभाव किया गया है. दलित युवतियों को अस्पताल में बैठने के लिए स्टूल तक नहीं दिया गया. रेप पीड़िताएं जमीन पर बैठी रहीं.

रात को पहुंची अस्पताल दोपहर तक नहीं हुआ मेडिकल
रिपोर्ट्स के मुताबिक शनिवार को फूलबेहड़ थाना क्षेत्र में तीन दलित युवतियों से गैंगरेप हुआ. पुलिस इनको रात को मेडिकल के लिए लेकर आई. हालांकि मेडिकल रविवार दोपहर तक होता रहा. मेडिकल के इंतजार में दलित युवतियों को घंटों तक अस्पताल की जमीन पर ही बैठी रहीं.

ये भी पढ़ेंः- झूठे आरोप लगाकर की दलित युवक की पिटाई, इलाज के लिए ले जाते वक्त मौत; ग्रामीणों का फूटा गुस्सा

डीएम ने मांगी जांच रिपोर्ट
घटना की जानकारी मिलते ही मामले पर डीएम अरविंद चौरसिया ने संज्ञान लिया है. एसडीएम सदर से जांच रिपोर्ट मांगी गई है.

दलित आवाज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें…

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *