Gujarat : Dalit शख्‍स मोटरसाइकिल पर बैठकर सामने से निकला तो उच्‍च जाति वालों ने किया जानलेवा हमला

Gujarat Dalit Family attacked for riding motorcycle in Kheda

अहमदाबाद: गुजरात (Gujarat) के खेड़ा जिले (Kheda District) के एक गांव में बुधवार को ठाकोर समुदाय के चार सदस्यों ने अनुसूचित जाति (Scheduled Caste) के एक 45 वर्षीय व्यक्ति पर केवल इसलिए हमला कर दिया, क्‍योंकि वह उनके सामने मोटरसाइकिल पर सवार होकर निकला. इस घटना से राज्‍य में समुदायों के बीच व्‍याप्‍त जातिवादी क्रूर मानसिकता का यह एक और उदाहरण सामने आया है. खेड़ा तालुका के वडाला गांव के निवासी बिपिन वांकर (Bipin Vankar) ने खेड़ा शहर पुलिस (Kheda Town Police) को दर्ज कराई अपनी प्राथमिकी में कहा है कि जब वह मोटइसाइकिल पर अपनी बेटी को पीछे बैठाकर ठाकोरवास (गांव में ठाकोर समुदाय की बस्‍ती) से गुजरे तो उन पर उसी गांव के हितेश ठाकोर, रोहित ठाकोर, राहुल ठाकोर और संजय ठाकोर ने हमला कर दिया.

गुजरात: वाल्‍मीकि शिक्षक को गांव में नहीं देता कोई रहने को घर, 150km रोज सफर कर बच्‍चों को पढ़ाने आते हैं

वांकर ने कहा कि अपनी बेटी के साथ एक बैंक से लौटते वक्‍त जब वह एक आरोपी रोहित ठाकोर की पान की दुकान के पास से गुजरे तो तीन अन्य लोगों के साथ वह उन पर चिल्लाया. जब वे तेज संगीत बजा रहे थे तो वांकर ने सोचा कि वे संगीत का आनंद ले रहे होंगे, लेकिन वे उस पर चिल्लाने लगे और उनके सामने मोटरसाइकिल पर सवार होने के लिए उसे गाली देने लगे. जब वह उनके पास गए और पूछा कि वे उन्हें गाली क्यों दे रहे हैं, तो वे और गुस्‍सा हो गए और उन्होंने उसे फिर से गाली दी और जाति-आधारित अपमानजनक शब्द (Caste based Abusive Words) बोले.

Gujarat : दलित दूल्‍हे को घोड़ी चढ़कर बारात निकालने से रोका, 9 लोगों को मिली 5 साल की सजा

किसी भी झड़प से बचने के लिए वांकर अपने घर लौट आए, लेकिन आरोपी उसके पीछे गांव के एससी समुदायों (SC Community) में से एक के वांकरवास में उसके घर आ गया और उस पर लाठियों से हमला कर दिया.

Gujarat : लंबी मूंछ रखना दलित युवक को पड़ा भारी, 11 लोगों ने लाठी-डंडों से पीटा; दी जातिवादी गालियां

वांकर की बेटी और पत्नी ने उसे बचाने के लिए बीच-बचाव किया तो आरोपियों ने उन पर भी हमला कर दिया. वांकर परिवार मदद के लिए चिल्लाया तो अन्य ग्रामीण वहां पहुंचे, जिसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गए. भागने से पहले उन्होंने परिवार को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी और कहा, “वे वडाला गांव में भी धथल की घटना को दोहराएंगे.”

Gujarat साबरकांठा: गांव में तैनात किए गए 120 जवान, तब घोड़ी पर दलित युवक ने निकाली बारात

दरअसल, 7 नवंबर, 2021 को खेड़ा के धथल गांव में एससी समुदाय के एक 35 वर्षीय व्यक्ति प्रीतेश मकवाना की ठाकोर समुदाय के तीन सदस्यों ने खेत के विवाद में हत्या कर दी थी. खेड़ा नगर पुलिस ने बुधवार को वडाला की घटना में ठाकोर समुदाय के चार सदस्यों के खिलाफ अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम (SC/ST Act) के आरोपों के साथ-साथ चोट पहुंचाने, आपराधिक धमकी और उकसाने की शिकायत दर्ज की.

Gujarat : रिक्‍शा चलाने से मना किया तो दलित को चाकुओं से गोदकर मारा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *