Dalit Bandhu Scheme : इस राज्‍य में दलितों को सरकार ने बांटी कारें-व्‍यवसायिक वाहन, जानें पूरी डिटेल

Dalit Bandhu Scheme Telangana Government distributed commercial vehicles to Dalit community

हैदराबाद (तेलंगाना): तेलंगाना सरकार (Telangana Government) ने शुक्रवार को दलित बंधु योजना (Dalit Bandhu Scheme) के तहत हैदराबाद में दलित समुदाय (Dalit community) को वाणिज्यिक वाहन वितरित किए. दलित बंधु योजना (Dalit Bandhu Yojna) का उद्देश्य दलित समुदाय को सशक्त बनाना और उन्हें गरीबी से बाहर निकालना है. यह योजना दलित समुदाय को रोजगार, स्वाभिमान और विकास देने के लिए बनाई गई थी, क्योंकि यह एक प्रभावी नीति है.

Dalit Bandhu Scheme : दलित बंधु योजना के तहत 24 दलितों को सौंपे गए ₹2.60 करोड़ के उपकरण

एएनआई से बात करते हुए हैदराबाद जिले के कार्यकारी निदेशक, एससी निगम, डॉ रमेश ने कहा, “करवां निर्वाचन क्षेत्र में कार, सेंट्रिंग मशीन, गुड्स वाहन और यात्री वाहनों को दलित बंधु योजना के तहत तेलंगाना सरकार द्वारा वितरित किया गया.

दलित बंधु (Dalit Bandhu) एक अनूठी योजना है, जिसमें दलित परिवारों (Dalit community) को 10 लाख रुपये दिए जाएंगे. वे इसका उपयोग व्यापार करने में कर सकते हैं. यह 100 फीसदी सब्सिडी है और लाभार्थियों को सरकार को एक रुपया भी वापस देने की जरूरत नहीं है.

Dalit Bandhu Scheme: हर दलित परिवार को 10-10 लाख देने वाली दलित बंधु योजना की जरूरी अपडेट

डॉ रमेश ने आगे कहा कि तेलंगाना सरकार ने दलित समुदाय को ध्यान में रखते हुए अच्छी योजनाएं बनाई हैं, जिससे दलित समुदाय के कई लोग लाभान्वित होंगे.

उन्‍होंने बताया कि “लाभार्थी हर महीने 30,000 रुपये से 40,000 रुपये कमा रहे हैं और वे अपने वाहनों और व्यवसाय के मालिक हैं. तेलंगाना सरकार हर विधानसभा क्षेत्र में 100 लाभार्थी दे रही है.

Dalit Bandhu Scheme: दलित बंधु योजना में हर दलित को बिजनेस शुरू करने को मिलेंगे 10 लाख

योजना के लाभार्थी लंगर हौज के निवासी नरसिंह राव ने कहा, ‘हमें दलित बंधु योजना (Dalit Bandhu Scheme) के तहत कार मिली है. केसीआर सर, स्थानीय विधायक और हरीश राव सर हमारा समर्थन कर रहे हैं. हमें चार पहिया वाहन मिले हैं और हम इसे टैक्सी की तरह चलाएंगे. सरकार दलितों के लिए अच्छा कर रही है अब तक किसी ने हमारी मदद नहीं की लेकिन केसीआर (KCR) के मुख्यमंत्री बनने के बाद हमें सरकार से अधिक लाभ मिल रहा है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *